Vidisha सड़क सुरक्षा संसदीय समिति की बैठक में दिए सुझाव

यातायात सुझावों पर अमल होगा, व्यवस्थाएं की जाएंगी दुरुस्त

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @ विदिशा मध्यप्रदेश रविकांत उपाध्याय/ 

जिला सड़क सुरक्षा संसदीय समिति की बैठक विदिशा के नवीन कलेक्ट्रेट सभागार कक्ष में सम्पन्न हुइ्र। इस बैठक में शमशाबाद विधायक श्रीमती राजश्री रूद्रप्रताप सिंह, कलेक्टर उमाशंकर भार्गव, पुलिस अधीक्षक डॉ मोनिका शुक्ला, अपर कलेक्टर वृदांवन सिंह, जिला परिवहन अधिकारी गिरजेश वर्मा, पीडब्ल्यूडी के कार्यपालन यंत्री हेमंत कुमार राजपूत, यातायात थाना प्रभारी आशीष राय, बस आपरेटर यूनियन प्रतिनिधि  तेजिन्दर सिंह, ट्रक यूनियन प्रतिनिधि झिरमल सिंह तथा ऑटो यूनियन प्रतिनिधि घनश्याम अहिरवार भी उपस्थित रहें।

बैठक में यातायात एवं वाहन पार्किंग सुविधाओं को ध्यानगत रखते हुए समिति के सुझावों पर अमल करने का निर्णय लिया गया है। पुलिस अधीक्षक ने शिकायत हेतु फोन नम्बर बस यात्रियों को उपलब्ध कराने, जिले मेंं चिन्हित दस ब्लैक स्पॉट की जानकारी देते हुए उन स्थानो पर सुधार कार्य कराए जाने के अलावा विदिशा नगर के मुख्य बाजार में सडको के दोनो और फ्लोरोसेंट पेंट से पार्किंग लाइन बनवाकर पार्किंग करने के संबंध में निर्णय लिया गया है। उपरोक्त बैठक में मुख्य बाजार विदिशा नगर में सब्जी ठेलो एवं हाथ ठेलो के लिए स्थान चिन्हित करवाना, शहर में बस स्टेण्ड, माधवगंज, रेल्वे स्टेशन, पेढी ब्रिज के नीचे एटीएम तिराहा, दुर्गानगर चौराहा, पीतल मील चौराहा एवं शहर के अन्य मुख्य चौराहो पर ऑटो रिक्शा स्टेण्ड बनाकर खडे होने वाले आटो की संख्या निर्धारित की जाये। एसएटीआई कॉलेज के गेट के सामने स्टूडेंट क्रांसिग के लिए फ्लोरोसेंट पेंट से स्पीड ब्रेकर पेंट करवाना एवं डिवाइडर पर ब्लिंकर पोल एवं रेडियम प्लेट लगवाना, मिर्जापुर गल्ला मंडी के बाहर मेन रोड पर दोनो ओर गति अवरोधक बनाए जायें। विदिशा शहर के बडा बाजार, बाल बिहार, पुराना वेयर हाउस की खाली पडी भूमि, नीमताल, ओबरब्रिज के नीचे पार्किंग के लिए स्थान चिन्हित किए गए है जिस पर नगरपालिका द्वारा पार्किग का निर्माण कराया जाकर दो पहिया वाहन हेतु पार्किंग की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाएगी जबकि बस स्टेण्ड पर सांकल कुंआ मंदिर के सामने खाली स्थान पर दो पहिया और पीछे की ओर चार पहिया वाहन के लिए पार्किंग की व्यवस्था की जाए। इसी प्रकार माधवगंज से तिलक चौक तक वनवे घोषित किया जाए। शहर में भारी वाहनो के प्रवेश को प्रतिबंधित किया जाना शामिल है।

सौराई रेकपाइंट मार्ग जो कि नई गल्ला मंडी के पीछे सौराई रेक पाइंट तक गया है, वहां सिंगल रोड होन के कारण कई बार क्रासिग में जंग की स्थिति बनती है। ट्रको के फंसने से रेक पांइट महत्वपूर्ण यातायात अवरूद्ध होता है। अतः रास्ते को डबल रोड किया जाना आवश्यक है। थोक सब्जी मंडी के बाहर मेन रोड जिसका चौडीकरण हो गया है पर वाहन पार्किंग एवं सड़क के मध्य लाइन डाला जाना। विवेकानंद चौराहा पर जेब्रा कं्रासिंग बनाना, दुर्घटना बाहुल्य क्षेत्र कुआंखेडी के पास नदी पुल एवं गुलाबगंज मोड के बीच तथा इसी रूट पर आगे खरी मार्ग मोड पर पर्याप्त संकेतक एवं सूचनाएं लगाना, रामलीला तिराहे से ईदगाह तिराहे की ओर डिवाइडर बनाया जाना। अशोकनगर रोड पर उदयगिरी एवं जम्बार बागरी मार्ग पर संकेतक लगाना। एसएटीआई गेट के सामने डिवाईडर पर रेडियमयुक्त संकेतक लगाना एवं नगरपालिका द्वारा पशुओं का व्यवस्थापन किया जाना शामिल है।