Vidisha साकेत स्कूल की रंगोलियाँ बनी आकर्षण का केंद्र

अतुल्य भारत, श्रीनाथजी, शिवशक्ति व 2050 का विकसित भारत थीम पर स्कूल स्टाफ ने 15 दिन की मेहनत से तैयार की रंगोलियाँ, मिली सराहना

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @विदिशा रमाकांत उपाध्याय/  9893909059 

सिविल लाइंस साकेत‎ शिशु रंजन स्कूल में‎ 15 दिन की मेहनत से बनाई गई रंगोलियों पर हजारो दिए जलाकर धनतेरस दीवाली का त्योहार उत्साह पूर्वक मनाया गया। 

साकेत‎ स्कूल के संचालक संजय‎ पांडे ने बताया कि स्कूल परिसर में‎ 4 अलग-अलग थीम की रंगोली‎ सजाई गई हैं। सभी रंगोलियां प्रेरक संदेश देने के साथ ही शहरवासियों के लिए आकर्षण का केंद्र बनी हुई है। रगोलियों को 3000‎ दिए जलाकर सजाया गया।  बुधवार को यह रंगोलियां शहरवासियों के देखने के लिए मिली। सभी देखने के बाद स्कूल स्टाफ की तारीफ करते नजर आए। 

अतुल्य भारत

अतुल्य भारत की थीम पर बनी रंगोली में प्राकृतिक छंटा से परिपूर्ण‎ , ड्रेगन से डटकर मुकाबला करता भारत, सीमाओं पर शांति के दीप‎ जलाता भारत, कोरोना में सुरक्षित स्वास्थ्य की कामना से दीप जलाते‎ डॉक्टर, मेडिकल स्टाफ, पुलिस और सफाई कर्मचारी, आईएनएस ध्रुव,‎ 100 करोड़ टीकाकरण का इतिहास रचता भारत, उड़ान भरते राफेल,‎ विपरीत परिस्थितयों में सूर्य के समान चमकता-अतुल्य भारत दिखाया है।‎

 

‎श्रीनाथ जी

वैभव संपन्न सृष्टि प्रतिपालक भगवान‎ श्रीनाथजी की हस्तकला से निर्मित‎ सम्पूर्ण झांकी‎ बनाई गई है। इसमें वल्लभाचार्य के प्रेम‎ से प्रकट हुए भगवान श्रीनाथजी नाथद्वारा‎ राजस्थान में भव्य मंदिर में स्थापित‎ मंदिर की प्रतिकृति दर्शाई गई है। इसके‎ अलावा श्रीनाथजी का स्वयं का‎ बाजार है।

शिव-शक्ति

इसमें पृथ्वी लोक पर शिवलिंग पूजन के‎ महत्व को प्रदर्शित करती यह रंगोली आदिदेव भगवान‎ शिव, माता पार्वती के साथ शिवलिंग में विराजित हैं। इसमें‎ गंग धारा प्रवाहित है। कमल के पुष्प खिले हुए हैं।‎ वैदिक कल्याणकारी महामंत्र का भी उल्लेख किया गया है।‎ ‎

2050 नव भारत

इसमें 2050 का‎ विकसित नव भारत,‎ मजबूत‎ अर्थव्यवस्था, जैविक कृषि, उत्तम‎ स्वास्थ्य, उन्नत‎ सूचना तंत्र, संचार‎ माध्यम, नवीनीकृत स्रोतों का‎ उपयोग,‎ मजबूत सुरक्षा, सशक्त‎ सेना, चिकित्सा क्षेत्र में अभूतपूर्व‎‎ विकास, स्वदेश में निर्मित उन्नत‎ तेजस विमान प्रदर्शित करती हुई रंगोली सजाई‎ गई है।

‎‎इस रंगोली को सजाने के लिए स्कूल शिक्षिका क्षमा शर्मा, नेहा तोमर, इंदु सिकरवार, सुरक्षा भारद्वाज, लक्ष्मी कोहली, वैदिका सुनहरे, कंचन दुबे, सोनाली यादव, राशी अरोरा, शीतल कुशवाह आदि की टीम शामिल थी। इसी तरह से सभी रंगोली स्कूल के स्टाफ द्वारा सजाया गया है।