Vidisha शांति समिति की बैठक में सदस्यों ने दिए सुझाव, डीएम-एसपी ने की शांति की अपील

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @ विदिशा मध्यप्रदेश रमाकांत उपाध्याय / 9893909059

आगामी त्यौहारो के परिपेक्ष्य में की जाने वाली तैयारियों की बिन्दुवार चर्चा आज शांति समिति की बैठक में की गई। कलेक्टर उमाशंकर भार्गव की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई इस बैठक में उन्होंने समिति के पदाधिकारियों द्वारा जन हितैषी सुझावो के साथ-साथ आवश्यक व्यवस्थाओं का क्रियान्वयन करने के निर्देश संबंधित विभागो के अधिकारियो को दिए गए।

पुलिस कंट्रोल रूम के सभाकक्ष में होली एवं रंगपंचमी पर्व सहित अन्य पर्व के परिपेक्ष्य में आयोजित की गई उक्त शांति समिति की बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष तोरण सिंह दांगी, पूर्व मंत्री राघवजी सहित समिति के अन्य सदस्यगण एवं विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहें।

जिला पंचायत अध्यक्ष तोरण सिंह दांगी ने कहा कि होली रंगो का त्यौहार है अतः हम रंग गुलाल का ही उपयोग हम त्यौहार में करें। त्वचा को हानि पहुंचाने वाले रंगो का उपयोग कदापि ना करें।

कलेक्टर उमाशंकर भार्गव ने कहा कि त्यौहार के दौरान कानून व्यवस्था बनी रहे। हम सब में भाईचारे की भावना प्रगाढ़ में वृद्वि हो। शहर की फिंजा किसी भी प्रकार से दूषित ना हो इन सभी बातों का विशेष ध्यान हम सब त्यौहार के दौरान रखें। उन्होंने कहा कि शांति समिति के सम्माननीय सदस्यगणों द्वारा जो बहुउपयोगी सुझाव दिए गए है उन पर अमल किया जाएगा।

कलेक्टर श्री भार्गव ने होलिका दहन नियत स्थलों पर करने की अपील करते हुए कहा कि इस बात का विशेष ध्यान रखें कि होलिका दहन के ऊपर विद्युत वायर ना हो। जबरन की किसी को रंग ना लगाएं। कर्णप्रिय ध्वनि वाद्य यंत्रों का प्रयोग करें। त्यौहार खुशी के प्रतीक है ऐसा संदेश हम अपने खुशी से दूसरों को भी दें। बैठक में समिति के सदस्यों द्वारा धुरेडी एवं रंगपंचमी पर निकलने वाले जुलूसो के मार्ग व व्यवस्थाओं हेतु किए जाने वाले प्रबंधों से अवगत कराया गया है।

पुलिस अधीक्षक डॉ मोनिका शुक्ला बैठक के दौरान सभी से आग्रह किया कि सोशल मीडिया पर भ्रामक, मतभेद उत्पन्न करने वाली पोस्ट ना डाले और ना ही इस प्रकार की पोस्टो को फारवर्ड करें। उन्होंने जागरूक नागरिक का परिचय देने की सभी से अपेक्षा की है पुलिस अधीक्षक श्रीमती शुक्ला ने कहा कि पुलिस द्वारा सघन जांच पड़ताल कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने दो पहिया वाहनों पर तीन-तीन सवारियां होने पर कार्यवाही करने को रेखांकित करते हुए कहा कि होली के लिए जबरन चंदा वसूली ना की जाए।

गोताखोर तैनात

गतवर्ष की भांति इस वर्ष भी बेस, बेतवा नदी के घाटों पर होमगार्ड के सैनिक और गोताखोर धुरेडी एवं पंचमी के दिन तैनात रहेंगे। ताकि किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना घटित ना हो सकें।

चंदा वसूली

बैठक में संबंधितों से आग्रह किया गया है कि जबरन चंदा वसूली किसी से भी ना की जाए। आयोजन हेतु जो स्वेच्छा से चंदा देने के इच्छुक हो उन ही से चंदा लिया जाए।

निर्धारित दर पर लकड़ी मिलेगी

शांति समिति की बैठक में बताया गया कि गतवर्ष की भांति इस वर्ष भी होलिका दहन हेतु वन विभाग के माध्यम से निर्धारित दर पर जलाऊ लकड़ी उपलब्ध कराने के प्रबंध सुनिश्चित किए जाएंगे। समिति के सभी सदस्यों के द्वारा नागरिकों खासकर युवाजनों से समिति ने आग्रह किया कि वे हरे-भरे वृक्ष ना काटे और ऐसी प्रेरणा अन्य को दें।

जलापूर्ति

होली (धुरेडी) और रंगपंचमी के दिन दोपहर दो बजे से सांय पांच बजे तक अतिरिक्त जल प्रदाय किया जाएगा। इसके अलावा नियत स्थलों पर पानी के टेंकर रखवाए जाएंगे।

चिकित्सीय व्यवस्था

होली एवं रंगपंचमी पर्व पर चिकित्सीय समुचित व्यवस्था रखी जाएगी ताकि आवश्यकता पड़ने पर आकस्मिक इलाज की पूर्ति तैयारी सुनिश्चित हो।

पुलिस व्यवस्था

पुलिस अधीक्षक डॉ मोनिका शुक्ला ने कहा कि त्यौहार उल्लास, उमंग के प्रतीक है उल्लास के दौरान किसी भी प्रकार की व्यवस्थाएं उल्लघिंत ना हो इसके लिए हम सब दूसरों का भी ध्यान रखें।

पुलिस अधीक्षक ने कहा कि समिति के सदस्यों द्वारा जो सुझाव दिए गए है उनका पालन किया जाएगा। नागरिकों का सहयोग अपेक्षित रहेगा को रेखांकित करते हुए उन्होंने बताया कि धार्मिक स्थलों पर किसी भी प्रकार का भेदभाव ना हो खासकर धुरेडी के दिन जुम्मे के नवाज अदा की जाएगी अतः मस्जिदो के आस-पास भी पूर्ण सुरक्षा के प्रबंध सुनिश्चित किए जाएंगे। उन्होंने जिले के सभी नागरिकों से आव्हान किया कि हम सब मिलकर सभी त्यौहारो को पहले से अधिक सौहार्द्र वातावरण में मनाएंगे।

यातायात

त्यौहारों के दौरान यातायात व्यवस्था सुचारू रूप से बनी रहे खासकर टू-व्हीलर वाहनों पर तीन सवारियों एवं नियंत्रित गति से अधिक वेग में वाहन चलाने वालों की धरपकड़ कार्यवाही आज से ही शुरू हो जाएगी। यह बात बताते हुए पुलिस अधीक्षक ने कहा कि अभिभावकजन अपने बच्चों पर नजर रखें। इसी प्रकार उन्होंने नागरिकों से आग्रह किया है कि यदि कोई तेज गति से वाहन चलाता हुआ पास होते है तो त्वरित पुलिस को सूचित करें ताकि संबंधित चालक के खिलाफ कार्यवाही की जा सकें। नियत स्थलों पर पुलिस बल तैनात किया जाएगा। यातायात प्रभावित ना हो इसके लिए आवारा पशुओं और सुअरों की धरपकड़ की जाएगी। शांति समिति की बैठक में आंगुतक सदस्यगणों के प्रति आभार एसडीएम गोपाल सिंह वर्मा ने अभिव्यक्त किया।