राशि के अभाव में न्याय से कोई वंचित ना हो

विधिक जागरूकता शिविर एवं योजनाओं से लाभांवित हुए हितग्राही, पीड़ितों को समय पर सहायता मिलें यह हमारा नैतिक कर्तव्य-कलेक्टर श्री भार्गव, आजादी का अमृत महोत्सव के तहत आयोजन शुरू हुए

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @ विदिशा रविकांत उपाध्याय/

महात्मा गांधी जी की जयंती पर आज जिला मुख्यालय पर विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया था उक्त शिविर में जनकल्याणकारी योजनाओं व कार्यक्रमों से हितग्राहियें को मौके पर लाभांवित किया गया है। 

  कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष अचल कुमार पालीवाल ने कहा कि विधिक सहायता के इन शिविरो का मुख्य उद्धेश्य आमजनों को उनके कानून हको की जानकारी देना है वही ऐसे व्यक्ति जिन्हें न्याय प्राप्ति हेतु मदद की जरूरत है। चाहे वह वकील करने अथवा सलाह लेने की जरूरत है तो उन्हें अविलम्ब प्राप्त हो। उन्होंने कहा कि राशि के अभाव में कोई भी व्यक्ति न्याय से वंचित नही हो सकता है। संविधान में कानूनन प्रावधानो के तहत आम व्यक्ति को उसकी आवश्यकता के अनुसार काननून मदद के लिए हर संभव प्रयास जिला विधिक सहायता के माध्यम से सम्पादित किए जाते है। उन्होंने कहा कि जन-जन तक जिला विधिक सहायता के प्रचार-प्रसार हेतु हर स्तर पर प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। अभी हाल में ही पोस्ट आफिसों को भी विधिक सहायता के प्रचार-प्रसार हेतु डेस्क बोर्ड उपलब्ध कराए गए है वहीं पोस्ट आफिसो में जिला विधिक सहायता के पता उल्लेखित लिफाफे व कार्ड रखे गए है जिनका उपयोग पीड़ित व्यक्ति महिला, अथवा अन्य अपनी समस्या व सम्पर्क नम्बर पता अंकित कर भेज सकेंगे। इसमें किसी भी प्रकार से हितग्राही को कोई राशि नही देनी होगी।

                प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष अचल कुमार पालीवाल ने कहा कि क्षतिपूर्ति के दावो में आवश्यक दस्तावेंज अतिआवश्यक होते है अतः आमजन दस्तावेंजो की प्राप्ति कर उसे सुरक्षित जरूर रखें, ताकि जरूरत पड़ने पर कानून हको के तहत उनका उपयोग किया जा सकें। उन्होंने जनजागरूकता के लिए इस प्रकार के आयोजनों का अति महत्पूर्ण बताया है। कार्यक्रम को जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्रीमती वंदना जैन ने भी सम्बोधित किया।

                कलेक्टर उमाशंकर भार्गव ने कहा कि लोगो तक जानकारी सुगमता से पहुंचे इसके लिए हर स्तर पर प्रचार-प्रसार के संसाधनो का उपयोग किया जाएगा और पीड़ितों को त्वरित लाभ मिलें यह हम सबका नैतिक दायित्व है। उन्होंने विभागो के जिलाधिकारियों से कहा कि अधीनस्थ ग्राम स्तरीय अमला भी जनजागरूकता के क्षेत्र में अग्रणी भूमिका निभा सकता है अतः योजनाओं के क्रियान्वयन के साथ-साथ आमजनों को उनके कानूनन हको की जानकारी  दिलाए जाने हेतु जिले में नवाचारो के माध्यम से उपरोक्त कार्य सम्पादित किया जाएगा।

                कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव का मुख्य उद्धेश्य जनजागरूकता का हर स्तर पर संदेश पहुंचाना है इस कार्य में मीडियाबंधुओं का भी सहयोग अति आवश्यक है। कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि जिन लोगो को कानूनी सहायता की आवश्यकता है उनको अविलम्ब उपलब्ध कराने के प्रबंध राजस्व अधिकारियों के माध्यम से संकलित किए जाएंगे। इसी प्रकार शासन की हर योजना का लाभ सुपात्रों को मिले। इसके लिए कही कोई कोर कसर नही छोडी जाएगी।

                पुलिस अधीक्षक श्रीमती मोनिका शुक्ला ने कहा कि अभियान का मुख्य उद्धेश्य जनजागरूकता को बढावा देकर ऐसे वर्ग तक संदेश पहुंचाना है जो अब तक अछूते है उन्होंने कहा कि जिले में महिलाओं को जागरूक करने के लिए पुलिस द्वारा विशेष नवाचार शीघ्र ही शुरू किया जाएगा ताकि समय पर उन्हें अपने हको की जानकारी हो और वे उसका सदुपयोग कर सकें। इस प्रकार के अभियानो को ग्राम स्तर तक पहुंचाने के लिए विभागो के माध्यम से विशेष पहल की जाएगी।

लाइव प्रसारण

                अखिल भारतीय विधिक जागरूकता एवं आउटरीच कार्यक्रम का उद्घाटन व लाइव उद्बोधन जो विज्ञान भवन नई दिल्ली से प्रसारित हुआ था का देखने व सुनने के प्रबंध जिला पंचायत के सभागार कक्ष में भी सुनिश्चित किए गए थे। यहां अतिथियों के अलावा अन्य न्यायाधीशगणो, अधिकारी, कर्मचारियों के अलावा मौके पर मौजूद हितग्राहियों ने भी देखा सुना है।

स्टालो का निरीक्षण

                जिला पंचायत परिसर में आयोजित जिला स्तरीय विधिक जागरूकता शिविर में विभिन्न विभागो के द्वारा शासकीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों पर आधारित स्टॉल लगाए गए थे इन स्टॉलो पर सुपात्र हितग्राहियों को विभागीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों से मौके पर अतिथियों द्वारा लाभांवित किया गया है।

हितग्राही लाभंवित

                आयोजन स्थल पर विभिन्न विभागो के द्वारा क्रियान्वित हितग्राहीमूलक योजनाओं से मौके पर चिन्हित हितग्राहियों को अतिथियों के द्वारा लाभांवित कराया गया है जिसमें राजस्व विभाग के द्वारा हितग्राहियों को ऋण पुस्तिका का वितरण कराया गया। महिला एवं बाल विकास विभाग के द्वारा लाड़ली लक्ष्मी व बालिका छात्रवृत्ति के स्वीकृति पत्र, कृषि विभाग द्वारा उन्नत बीज की किटे सामाजिक न्याय विभाग के द्वारा दिव्यांगजनो को सहायक उपकरणो के अलावा दिव्यांग अंर्तजातीय दम्पति श्री माखनदास बैरागी पत्नि साक्षी को दो लाख रूपए की सहायता राशि का स्वीकृति पत्र, खाद्य विभाग द्वारा निःशुल्क गैस कनेक्शन, पात्रता पर्चियों, निकाय के द्वारा मजदूरो का पंजीयन, संबल योजना से लाभांवितों को सहायता राशि स्वीकृति पत्र का वितरण कराया गया है।

टीकाकरण सुविधा

                विधिक जागरूकता शिविर स्थल पर कोविड 19 वैक्सीनेशन टीकाकरण की भी सुविधा आगंतुको के लिए उपलब्ध कराई गई थी। ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों से आने वाले हितग्राहियों के अलावा अन्य गणमान्य नागरिको के द्वारा टीकाकरण सुविधा का लाभ प्राप्त किया गया है।

                आयोजन स्थल पर जिला पंचायत सीईओ आइएएस डॉ योगेश भरसट, अपर कलेक्टर  वृदांवन सिंह, सहायक कलेक्टर व विदिशा जनपद पंचायत के सीईओ  अनिल कुमार राठौर, वार एसोशिएशन  के अध्यक्ष  अतुल वर्मा, के अलावा विभिन्न विभागो के अधिकारी, कर्मचारी, हितग्राही, मीडियाकर्मियों के अलावा गणमान्य नागरिक मौजूद रहें।