Vidisha सांसद व जनप्रतिनिधियों ने किया जिला स्तरीय स्वास्थ्य मेले का शुभारंभ, पहले दिन 2522 हुए लाभांवित

मुख्यमंत्री जी ने गरीबों और मजदूरों की चिंता की, उन्हें सही समय पर स्वास्थ्य लाभ मिले और वे स्वस्थ्य रहेंः सांसद रमाकांत भार्गव

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @ विदिशा मध्यप्रदेश रविकांत उपाध्याय / 8085883358

जिला स्तरीय दो दिवसीय स्वास्थ्य मेला का शुभारंभ बुधवार को श्रीमंत माधवराव सिंधिया जिला चिकित्सालय परिसर में कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एवं सांसद रमाकांत भार्गव सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने मां सरस्वती जी के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर एवं कन्या पूजन कर किया गया।

कार्यक्रम के शुभारंभ के पूर्व मुख्य अतिथि सांसद रमाकांत भार्गव, विधायकद्वय हरिसिंह सप्रे, श्रीमती राजश्री सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष तोरणसिंह दांगी, जिला क्राईसिस मैनेजमेंट समिति के सदस्यगण डॉ राकेश जादौन, मुकेश टण्डन सहित अन्य जनप्रतिनिधियों के अलावा कलेक्टर उमाशंकर भार्गव, पुलिस अधीक्षक डॉ मोनिका शुक्ला, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ अखण्ड प्रताप सिंह ने स्वास्थ्य मेला में लगाए गए काउंटर स्थलों पर पहुंचकर निरीक्षण किया। सांसद श्री भार्गव ने काउंटर पर मौजूद चिकित्सकगणों एवं नर्सेंस से संवाद कर आमजनों को दी जाने वाली स्वास्थ्य सुविधाओं के प्रबंध की जानकारी प्राप्त की।

श्रीमंत माधवराव सिंधिया जिला चिकित्सालय परिसर में आयोजित कार्यक्रम में स्वास्थ्य मेला कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सांसद  रमाकांत भार्गव ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह जी चौहान ने गरीबों और मजदूरों के लिए इस बात की चिंता की है कि उन्हें सही समय पर स्वास्थ्य लाभ मिले और वे स्वस्थ्य रहें। इस हेतु मुख्यमंत्री जी के निर्देशानुसार ब्लॉक स्तर पर स्वास्थ्य मेला लगाए गए और गांव-गांव के रहवासियों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया उनकी निशुल्क आयुष्मान कार्ड, हेल्ड आईडी कार्ड बनाए गए और आज इस जिला स्तरीय दो दिवसीय स्वास्थ्य शिविर में ब्लॉक स्तर पर लगाए गए मेलों में गंभीर बीमारी से ग्रस्त मरीजों को यहां लाया गया है जिनका निशुल्क उपचार किया जाएगा।

सांसद श्री भार्गव ने कार्यक्रम में उपस्थित आमजनों से आव्हान किया कि आज के शिविर में सभी प्रकार की जांचे हो रही हैं और स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है, जिला अस्पताल में सभी प्रकार की सुविधाएं निशुल्क मुहैया कराई जा रही हैं जिसका लाभ वह अवश्य उठाएं।

सांसद श्री भार्गव ने कहा कि सीएम श्री शिवराजसिंह जी चौहान की मंशा है कि कृषक समृद्ध बने इसके लिए भी लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने आवास योजना के तहत आमजनों को मिलने वाले लाभ के संबंध में कहा कि आज गरीबों को पक्के घर बनाकर देने का कार्य प्रधानमंत्री जी और मुख्यमंत्री जी के द्वारा किया गया है, जिसके लिए उन्होंने अभिवादन किया।

जिला पंचायत अध्यक्ष तोरण सिंह दांगी ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह जी चौहान के निर्देशानुसार ब्लॉक स्तर पर स्वास्थ्य मेला आयोजित कर आमजनों को स्वास्थ्य लाभ दिया गया है। आमजनों की सेवा हेतु यह पुनीत कार्य सराहनीय है और आज जिला स्तरीय स्वास्थ्य मेले में भी हजारों मरीजों को स्वास्थ्य का लाभ मिल रहा है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य जांच के साथ-साथ अन्य कई प्रकार की जांचे भी यहां पर निशुल्क की जा रही हैं जिसका लाभ वह अवश्य उठाएं।

कुरवाई विधायक श्री हरि सिंह सप्रे ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह जी चौहान के निर्देशानुसार हर ब्लाक में स्वास्थ्य मेले लगाए गए और आमजनों को स्वास्थ्य लाभ दिया गया हेल्थ आईडी भी बनाई गई और आयुष्मान कार्ड भी मौके पर ही प्रदाय किए गए। जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने भी आज ब्लॉक स्तर पर चिन्हित किए गए मरीजों को विभिन्न संसाधनों के माध्यम से जिला स्तरीय स्वास्थ्य मेला में बुलाया और अब इनका उपचार होगा इसके लिए जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग को उन्होंने धन्यवाद भी दिया। उन्होंने कहा कि उनकी विधानसभा क्षेत्र के कैंसर पीड़ित एक मरीज को शासन की योजना अंतर्गत स्वास्थ्य का लाभ मिला। जिसमें मरीज को इलाज के लिए साडे साढ़े तीन लाख रुपये की राशि दिलाई गई है। उन्होंने आमजन से अपील की कि वह स्वास्थ्य मेले में आकर अपने स्वास्थ्य की जांच अवश्य कराएं।

शमशाबाद विधायक श्रीमती राजश्री सिंह ने कहा कि वह विदिशा जिले के स्वास्थ्य अमले को धन्यवाद देना चाहती हूं कि वह आज बेहतर ढंग से स्वास्थ्य सेवाएं दे रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान के निर्देशन में कोरोना काल में जिस लगन और ईमानदारी से डॉक्टरों, नर्सेस और अन्य स्टॉफ ने आमजनों की सुविधा हेतु सेवा कार्य किया वह सराहनीय है। इसके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री जी को धन्यवाद दिया।

जिला क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी के सदस्य मुकेश टंडन ने कहा कि आज विदिशा में आलीशान अस्पताल बनकर तैयार हो गया है मेडिकल कॉलेज की सौगात भी विदिशा जिलेवासियों को मिली है स्वास्थ्य सुविधाओं के मामले में विदिशा पीछे नहीं है आमजनों को यहां पर अच्छे से अच्छा इलाज मिल रहा है और शासन द्वारा आयुष्मान योजना अंतर्गत कार्ड बनाकर गंभीर बीमारियों से ग्रस्त मरीजों का निशुल्क इलाज भी किया जा रहा है।

कार्यक्रम का संचालन शिक्षिका श्रीमती दीप्ति शुक्ला ने किया एवं अंत में आभार श्रीमंत माधवराव सिंधिया जिला चिकित्सालय के सिविल सर्जन डॉ संजय खरे ने व्यक्त किया।

स्वास्थ्य सेवाएं-

श्रीमंत माधवराव सिंधिया जिला चिकित्सालय परिसर में आयोजित स्वास्थ्य मेला में हितग्राहियों को स्वास्थ्य लाभ देने हेतु जगह-जगह काउंटर लगाए गए थे।मेडिकल कॉलेज के साथ-साथ विदिशा के प्राइवेट अस्पताल में आयुष्मान भारत में पंजीकृत हैं जिनमें अपोलो हॉस्पिटल, शांति समिति लेक्चर हॉस्पिटल, सद्गुरु सेवा ट्रस्ट नेत्र चिकित्सालय आनंदपुर एवं लायंस क्लब द्वारा भी डायबिटीज की जांच हेतु कैंप लगाया गया।

स्वास्थ्य मेला में भोपाल के निजी अस्पताल जो आयुष्मान भारत में पंजीकृत हैं कृष्णा कैंसर हॉस्पिटल, ग्रीन सिटी हॉस्पिटल, एलन मेडिकल कॉलेज एंड जेके हॉस्पिटल, नोबल हॉस्पिटल, स्मार्ट सिटी हॉस्पिटल, लाहोटी हॉस्पिटल भोपाल द्वारा मरीजों की निशुल्क जांच की गई।

कार्यक्रम में जीएनएम ट्रेनिंग सेंटर की छात्राओं द्वारा एक थी रानी नाटक शक्तिमान जांच चार इलाज एवं घर परिवार में सांस पति तेवर जेठानी गर्भवती अंधविश्वास एवं जागरूकता के बारे में नाटक का मंचन किया गया।

जिला स्तरीय स्वास्थ्य मेले में पहले दिन 2522 लाभान्वित हुए

अमृत महोत्सव कार्यक्रम के तहत विदिशा जिला मुख्यालय पर दो दिवसीय स्वास्थ्य मेले का आयोजन श्रीमंत माधवराव सिंधिया शासकीय जिला चिकित्सालय परिसर में बुधवार 18 मई से शुरू हुआ है। पहले दिन ढाई हजार से अधिक व्यक्ति लाभान्वित हुए हैं।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर अखंड प्रताप सिंह ने बताया कि स्वास्थ्य मेले में कुल 2522 व्यक्तियों का पंजीयन किया गया इनमें से 85 क्षय रोग संबंधी, 40 की खखार जांच की गई जिसमें चार पॉजिटिव चिन्हित हुए हैं।

स्वास्थ्य मेला में 73 व्यक्तियों के आयुष्मान कार्ड बनाए गए हैं। जबकि 96 व्यक्तियों के हेल्थ आईडी बनाई गई वहीं 127 शिशु रोग हेतु पंजीयन किया गया है। इसके अलावा 78 की नाक कान गले की जांच की गई 422 व्यक्तियों की आंखों की जांच की गई इनमें से 222 व्यक्तियों को चश्मा वितरण किए गए हैं। 27 व्यक्तियों को मोतियाबिंद पाया गया, 170 स्त्री रोग संबंधी जांच की गई, 125 व्यक्तियों के त्वचा रोग, 197 पट्टी रोड, 55 उच्च रक्तचाप, 141 गर्भवती महिलाओं की जांच की गई, शेष अन्य सामान्य बीमारियों हेतु पंजीकृत एवं जांच कर उपचार किया गया है।