DM की जनसुनवाई में अधिकांश समस्याएं हुई हल, मौके पर मिली ट्रायसाइकिल व वैशाखी

 

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @विदिशा रमाकांत उपाध्याय/

जनसुनवाई कार्यक्रम में 99 आवेदनों ने अपने आवेदन प्रस्तुत कर व्यक्तिगत और सार्वजनिक समस्याओं की ओर कलेक्टर श्री उमाशंकर का ध्यान आकर्षित कराया। कलेक्टर द्वारा मौके पर 56 आवेदनों का निराकरण किया गया है। जिला पंचायत के सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई जनसुनवाई कार्यक्रम में विभिन्न विभागो के अधिकारियों ने पंक्तिबद्ध रो में बैठकर आवेदको की समस्याओं को सुना है।


कलेक्टर उमाशंकर भार्गव को ग्राम पिथौली के आवेदक श्री चैन सिंह ने बताया कि उनके पुत्र ना तो खाने दे रहे है और ना ही साथ रख रहे है। इस प्रकार के आज अधिकांश आवेदन प्राप्त हुए है इन आवेदनों को टीएल बैठक में शामिल करने के निर्देश डिप्टी कलेक्टर एवं जनसुनवाई कार्यक्रम की नोडल अधिकारी श्रीमती अमृता गर्ग को दिए है।
कलेक्टर श्री भार्गव ने वायोवृद्ध आवेदको संवाद कर उन्हें अवगत कराया कि एसडीएम के यहां प्रकरण दर्ज किया जाएगा और हो सकता है एक या दो पैशी में आना पडें़। आप लोगो की व्यथा से मैं भलीभांति अवगत हो चुका हूॅ। शीघ्र ही भरण पोषण अधिनियम के तहत कार्यवाही कर समाधान कराया जाएगा।
जयप्रकाश कॉलोनी के आवेदको ने नालियों की साफ सफाई व नवीन पुलिस लाइनके सीवेज टेंकों की सफाई कराने हेतु आवेदन प्रस्तुत किया। उपरोक्त आवेदनों पर मुख्य नगरपालिका अधिकारी को शीघ्र कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया है। कलेक्टर श्री भार्गव ने आवेदकगणो से कहा कि यदि पांच दिनों में कार्यपूर्ण नही होता है तो मुझे मोबाइल पर सूचित करें।
विदिशा लुंहागी मोहल्ला की रहने वाली बालिका लक्ष्मी का ट्रक से एक्सीडेन्ट हो जाने के कारण इलाज हेतु आवश्यक प्रबंध सुनिश्चित कराए जाने का आग्रह आवेदक द्वारा किया गया था कलेक्टर श्री भार्गव ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी को आवश्यक कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया है।
बासौदा तहसील के ग्राम कुल्हार के आवेदक रविन्द्र पाल ने भूमि का सीमांकन नही होने के संबंध में अवगत कराया ततसंबंध में बासौदा तहसीलदार को शीघ्र कार्यवाही करने हेतु तथा आवेदक श्री भूपेन्द्र रायकवार ने पिता की मृत्यु उपरांत अनुकम्पा नियुक्ति दिलाए जाने हेतु आवेदन प्रस्तुत किया था ततसंबंध में आवेदकों को अवगत कराया गया कि शीघ्रतिशीघ्र कार्यवाही सम्पादित की जाएगी।
जिला पंचायत के सभागार कक्ष में जनसुनवाई कार्यक्रम के दौरान जिला पंचायत के अतिरिक्त सीईओ दयाशंकर सिंह सहित विभिन्न विभागों के जिलाधिकारी, आवेदकगण तथा पत्रकार बंधु मौजूद रहें।

ट्रायसाइकिल व वैशाखी मिली हितग्राही को
जनसुनवाई कार्यक्रम मेंं आए दिव्यांग आवेदक सराज ने जैसे ही कलेक्टर से अपनी आपबीती बताई और ट्रायसाइकिल तथा वैशाखी दिलाए जाने का आग्रह किया। कलेक्टर ने जनसुनवाई कार्यक्रम समाप्ति के पहले ही आवेदक को दोनो सामग्री अपने हाथो से प्रदाय की हैं।
आदिवासी दिव्यांग अस्थिबाधित 54 वर्षीय आवेदक श्री सराज विदिशा नगर के वार्ड एक जानकी नगर में निवासरत हैं। हितग्राही ने बताया कि जीवनयापन के लिए आवश्यक खाद्यान्न, आवास, शासन की योजना के तहत मुझे पहले ही मिल रहा था और अब आने जाने का भी साधन मिला है। अब मुझे आने-जाने में दूसरो की मदद कम लेनी पडेगी। शासन की योजनाओं ने मुझे अनेक प्रकार से मदद पहुंचाई है जिसका मै जीवन भर आभारी रहूंगा।

आवेदन लिखवाने की सुविधा
कलेक्टर उमाशंकर भार्गव ने जनसुनवाई कार्यक्रम में अपनी समस्याओं की ओर ध्यान आकर्षित कराने हेतु आवेदकगणो को खासकर ग्रामीण क्षेत्रों के अनपढ़ आवेदको को किसी भी प्रकार की समस्या से जूझना ना पडे इसके लिए जनसुनवाई कार्यक्रम में आवेदन लिखने के लिए कर्मचारी तैनात किए गए है।
जिला पंचायत में आयोजित जनसुनवाई कार्यक्रम के दौरान टेबिल, कुर्सी लगाकर बाहर बैठे शासकीय अमले के पास आवेदकगण उपस्थित होकर अपनी समस्या बताते है। अवगत होने के उपरांत शासकीय अमले द्वारा प्रिन्टेड आवेदन प्रारूप में जानकारियां अंकित की जाती है जिसमें मुख्य रूप से समस्या का उल्लेख, किस विभाग से संबंधित है तथा आवेदक का नाम पता और सम्पर्क नम्बर इत्यादि की जानकारियां लिखने के उपरांत कर्मचारियों द्वारा टोकन प्रदाय करने की कार्यवाही की जाती है जिसे लेकर आवेदक सीधे कलेक्टर के समक्ष जनसुनवाई कक्ष में उपस्थित हो रहे है।

ग्राम पंचायत स्तर पर जनसुनवाई 
कलेक्टर  उमाशंकर भार्गव ने खण्ड स्तरीय वीडियो कांफ्रेसिंग समीक्षा में दिए गए निर्देशो के अनुपालन में अब जिले की प्रत्येक ग्राम पंचायत स्तर पर जनसुनवाई कार्यक्रम का आयोजन शुरू हुआ है।
जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट ने बताया कि प्रत्येक जनपद सीईओ को ततसंबंध में पूर्व ही आवश्यक दिशा निर्देश प्रसारित किए जा चुके है वही ग्राम पंचायत स्तरीय जनसुनवाई कार्यक्रम की क्रास मानिटरिंग की जबावदेंही स्थानीय एसडीएम को सौंपी गई है।
ग्राम पंचायत स्तरीय जनसुनवाई कार्यक्रम में पंचायत सचिव, जेआरएस, पटवारी के अलावा ग्राम स्तरीय अमला मौजूद रहकर स्थानीय रहवासियों की मूलभूत समस्याओं से अवगत होकर ऐसी समस्या जिनका निराकरण ग्राम स्तर पर संभव नही है उन समस्याओं से वरिष्ठ कार्यालय, अधिकारियों को अवगत कराएंगे।
कुरवाई एसडीएम श्रीमती आरती यादव ने बताया कि अनुविभाग क्षेत्र की सभी ग्राम पंचायतो में जनसुनवाई कार्यक्रम आयोजित करने के निर्देशो से अवगत कराया जा चुका है समस्त ग्राम पंचायतो के सचिवों को निर्धारित प्रारूप में पालन प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के भी निर्देश दिए है। कुरवाई अनुविभाग क्षेत्र की पठारी तहसील के ग्राम भालबामोरा में पांच आवेदको ने ग्राम पंचायत लचायरा में सात आवेदको ने जबकि ग्राम पंचायत कांकर में 11 आवेदको ने आवेदन प्रस्तुत किए है।