Vidisha जिले में 314 सेम्पल पॉजिटिव, कलेक्टर भी हुए संक्रमित

कलेक्टर उमाशंकर भार्गव भी संक्रमित, जिपं सीईओ को कलेक्टर का प्रभार, सतर्कता रखें और जांच अवश्य करबायें, मास्क पहने और टीकाकरण अवश्य करबायें, गाइडलाइंस का पालन करें

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @ विदिशा मध्यप्रदेश रमाकांत उपाध्याय/ 9893909059

विदिशा जिले में 21 जनवरी को सर्वाधिक 314 सेम्पल पॉजिटिव प्राप्त हुए है जिसमें विदिशा विकासखण्ड में 110, बासौदा में 95, सिरोंज में 43, कुरवाई में 27, लटेरी में 16, नटेरन में 12 और ग्यारसपुर में 11 सेम्पल कोरोना पॉजिटिव चिन्हित हुए है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ अखण्ड प्रताप सिंह के द्वारा जारी आज हेल्थ बुलेटिन की जानकारी में उल्लेख है कि फीवर क्लीनिक में 1568 मरीजो का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया है। जबकि विदिशा के कोविड केयर में दो एवं मेडीकल कॉलेज में आईसोलेशन में भी छह मरीज भर्ती है।

सीएमएचओ डॉ सिंह ने लैब रिपोर्ट की जानकारी के संबंध में बताया कि एक जनवरी 2022 से आज दिनांक तक जांच के लिए भेजे गए सेम्पलों की संख्या 28975 जबकि आज दिनांक को लिए गए सेम्पलों की संख्या 1826, आज प्राप्त सेम्पल रिपोर्ट की संख्या 2452 है। आज दिनांक तक 23601 सेम्पलों की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है। सेम्पल जो रिजेक्ट हुए है 780, कोरोना पॉजिटिव स्वस्थ व्यक्तियों की संख्या 506, वर्तमान में कुल कोरोना पॉजिटिव एक्टिव केस की संख्या 1113 है। आज 107 मरीज डिस्चार्ज हुए है। वर्तमान में 1105 कोरोना पॉजिटिव एक्टिव केस होमआइसोलेशन में है।

होमआइसोलेशन मरीजो से सतत सम्पर्क

कोरोना पॉजिटिव मरीज जो होमआइसोलेशन में रह रहे है उन सबको दवाओं की किट प्रदाय की गई है साथ ही कोविड कमाण्ड एवं कंट्रोल सेन्टर के चिकित्सक सुबह शाम सामान्य तौर पर मरीजो से वीडियो कांलिंग का उनके स्वास्थ्य की जानकारी ले रहे है वहीं आवश्यकता पडने पर होमआइसोलेशन में रह रहे मरीज भी सीधे सम्पर्क कर रहे है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ अखण्ड प्रताप सिंह ने बताया कि जिला चिकित्सालय परिसर में स्थित रैन बसेरा के द्वितीय तल में कोविड कमाण्ड एवं कंट्रोल सेन्टर (सीसीसी) संचालित हो रहा है जिसमें होम आइसोलेटेट कोविड मरीजो का चिकित्सीय पर्यवेक्षण मोबाइल सम्पर्क नम्बर 9406917572, 9406917573, 9406917574 द्वारा वीडियो कांलिंग के माध्यम से संपादित किया जा रहा है इसके अलावा कोविड कमाण्ड एवं कंट्रोल सेन्टर का टोल फ्री नम्बर 1075 (07592-1075) है। जिले में एक जनवरी से अब तक 1620 पॉजिटिव केस है जिसमें से 1105 होमआइसोलेशन में जबकि 107 होम आइसोलेशन से डिस्चार्ज हुए है।

 

कलेक्टर का प्रभार ,जिला पंचायत सीईओ के पास

कलेक्टर उमाशंकर भार्गव कोविड़ पॉजिटिव होने के कारण होम आइसोलेशन में रहने के फलस्वरूप कलेक्टर विदिशा का कार्य भार उन्होंने जिला पंचायत सीईओ (आईएएस) डॉ योगेश भरसट को उक्त अवधि तक कलेक्टर का प्रभार सौंपा है। 

कोरोना से बचाव हेतु जन अभियान के वालंटियर्स चला रहे जनजागरूकता अभियान

ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्रों में जन अभियान परिषद के कोरोना वालंटियर्स के प्रयास से कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सतत जनजागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। कोरोना वालंटियर्स नगरीय निकाय एवं ग्राम पंचायतों को सहयोग कर स्वैच्छिक सहयोग प्रदान कर रहे हैं। वालंटियर्स द्वारा लोगों को कोविड वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करने के साथ ही कोविड अनुकूल व्यवहार के पालन, रोको-टोको अभियान के तहत लोगों को फेस मास्क पहनने, सुरक्षित शारीरिक दूरी का पालन करने के बारे में समझाईश दी जा रही है। इस तरह कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए वालंटियर्स अपना अतुलनीय सहयोग दे रहे हैं। मैं कोरोना वालंटियर्स अभियान अंतर्गत जिला प्रशासन द्वारा चलाए जा रहे रोको-टोको अभियान के अंतर्गत प्रशासन की टीम को सहयोग करते हुए राहगीरों को कोरोना से बचाव के लिए जागरूक करने के साथ ही निःशुल्क मास्क का वितरण किया जा रहा है। जन अभियान परिषद के जिला समन्वयक श्रीमती पूजा श्रीवास्तव के नेतृत्व में कोरोना वालंटियर जन जागरूकता के तहत दीवार लेखन कर कोरोना से बचाव के स्लोगन लेखन कर लोगों को प्रेरित किया जा रहा है। जिससे लोगों को प्रेरणा मिल सके। कोरोना वालंटियर्स द्वारा कोविड वैक्सीनेशन कार्य में दी जा रही सेवाएं उल्लेखनीय है।

कोविड केयर सेंटर में स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने संबंधी निर्देश

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन मप्र संचालक द्वारा जारी पत्र में ई संजीवनी टेलीमेडिसिन एवं ई संजीवनी ओपीडी के माध्यम से जिला कोविड कमाण्ड सेंटर एवं कोविड केयर सेंटर पर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने संबंधी निर्देश दिए गए हैं। जारी पत्र में उल्लेख है कि जिलों में क्रियाशील जिला कोविड कमांड सेंटर एवं कोविड केयर सेंटर को ई संजीवनी कार्यक्रम अंतर्गत स्पोक के रूप में विकसित कर होम आइसोलेटेड एवं कोविड केयर सेंटर में भर्ती कोविड पॉजिटिव केसेस को उपचार सुविधा प्रदान की जाएगी। इस हेतु समस्त जिले व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें, जिससे अधिक से अधिक मरीजों को समय पर उपचारित किए जा सके।

डिस्ट्रिक्ट कोविड कमाण्ड सेंटर होम आइसोलेटेड कोविड पॉजिटिव केसेस को आवश्यक उपचार देने हेतु ईसंजीवनी टेलीमेडिसिन स्पोक के रूप में चिन्हित किया गया है।

उपरोक्त प्रक्रिया हेतु डिस्ट्रिक्ट कोविड कमाण्ड सेंटर पर पदस्थ चिकित्सक अथवा टेलीकॉलर को ई संजीवनी टेलीमेडिसिन अंतर्गत स्पोक की आईडी प्रदाय की गई है। जिसके माध्यम से जिला चिकित्सालय पर पदस्थ चिकित्सक से परामर्श कर उपचार प्रदाय किया जाएगा।

डिस्ट्रिक्ट कोविड कमाण्ड सेंटर पर पदस्थ चिकित्सक टेलीकॉलर होम आइसोलेशन के कोविड पॉजिटिव केसेस को उनकी स्वास्थ्य की स्थिति जानने के लिए कॉल करेंगे। यदि किसी कोविड पॉजिटिव मरीज को उपचार की आवश्यकता है तो ई संजीवनी टेलीमेडिसिन अंतर्गत प्रदाय की गई स्पोक की आईडी से जिला चिकित्सालय में स्थापित हब में कॉल कर चिकित्सक से परामर्श लिया जाएगा।

चिकित्सक के परामर्श अनुसार प्रदाय किए गए उपचार से कोविड पॉजिटिव मरीज को परामर्श अनुसार प्रस्तावित की गई औषधियों को मोबाइल मेडिकल टीम द्वारा अनिवार्यता घर पर पहुंचाना सुनिश्चित करेंगे।

इसी प्रकार जिला स्तर पर जिला चिकित्सालय के अतिरिक्त सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र या अन्य भवन में कोविड केयर सेंटर स्थापित किए गए हैं इन केंद्रों में गंभीर लक्षण वाले कोविड पॉजिटिव मरीजों को भर्ती कर उपचार प्रदान किया जा रहा है।

विभाग द्वारा जिला चिकित्सालय के अतिरिक्त संचालित कोविड केयर सेंटर को ई संजीवनी टेलीमेडिसिन स्पोक के रूप में चिन्हित किया गया है।

संजीवनी स्पोक के रूप में चिन्हित कोविड केयर सेंटर में भर्ती मरीज को आवश्यकता होने पर संस्था पर पदस्थ चिकित्सक अथवा स्टाफ द्वारा जिला चिकित्सालय के ई संजीवनी हाल के माध्यम से विशेषज्ञ चिकित्सा परामर्श एवं उपचार हेतु टेलीकंसल्टेशन किया जाएगा।

ई-संजीवनी ओपीडी ऐप

होम आइसोलेटेड कोविड पॉजिटिव मरीज स्वयं चिकित्सक से परामर्श एवं उपचार हेतु टेलीकंसल्टेशन करना चाहता है तो डिस्ट्रिक्ट कोविड कमांड सेंटर पर पदस्थ टेलीकॉलर द्वारा ई संजीवनी ओपीडी ऐप में पंजीयन की प्रक्रिया समझाकर उपचार एवं नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र से औषधि प्राप्त करने संबंधी जानकारी प्रदान की जाएगी।