Vidisha लंबित आवेदनों की समीक्षा कर कार्य में तेजी लाने के निर्देश

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @ विदिशा रविकांत उपाध्याय/ 

               कलेक्टर उमाशंकर भार्गव ने मंगलवार को विभिन्न विभागों में लंबित आवेदनो की समीक्षा नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में की। उक्त बैठक में जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट, अपर कलेक्टर वृदांवन सिंह के अलावा डिप्टी कलेक्टर द्वय श्रीमती अमृता गर्ग, श्रीमती अनुभा जैन के अलावा विभिन्न  विभागों के अधिकारी मौजूद रहें।

               कलेक्टर श्री भार्गव ने सीएम हेल्पलाइन के तहत दर्ज आवेदनों के निराकरणों पर विशेष बल देते हुए कहा कि जिला अभी ‘ए’ ग्रेड की सूची में शामिल है अतः इस स्थिति को बनाए रखें। उन्होंने ऐसे विभाग जो ‘डी’ ग्रेड सूची में शामिल है उन विभागों के अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए है कि निराकरण के मामलों में विशेष पहल करें।

               कलेक्टर श्री भार्गव ने पीएम स्ट्रीट वेण्डर योजना के तहत सभी हितग्राहियों को वित्त पोषण की कार्यवाही इसी माह सुनिश्चित कराए जाने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि ऐसे हितग्राही जिनके द्वारा प्रथम चरण में लिए गए दस हजार रूपए बैंको को लौटाए गए है ऐसे सभी हितग्राहियों को द्वितीय चरण का ऋण अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराया जाए ताकि वे बैंक की साख के प्रति उनका विश्वास बढें।

               उचित मूल्य दुकानों से कार्डधारियों को प्रदाय किए जाने वाले राशन के आवंटन व पुर्नवंटन के संबंध में भी आवश्यक निर्देश कलेक्टर द्वारा नागरिक आपूर्ति निगम के अधिकारियों को दिए गए है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक माह की 27 तारीख तक आगामी माह का खाद्यान्न उचित मूल्य दुकानों में भण्डारण कराया जाना सुनिश्चित हो। इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नही की जाएगी। यदि कोई ट्रांसपोर्टर द्वारा इस कार्य में कोताही बरती जाती है है तो उसके खिलाफ कठोर कार्यवाही का प्रस्ताव प्रस्तुत करें।

               कलेक्टर भार्गव ने जिले में जारी कोविड वैक्सीन टीकाकरण अभियान के द्वितीय चरण के लक्ष्यों की प्राप्ति हेतु की गई पहल संबंधी कार्यो की भी समीक्षा की। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एपी सिंह ने बताया कि प्रथम डोज के तहत जिले में 95 प्रतिशत टीकाकरण कार्य संपन्न हुआ है जबकि द्वितीय डोज अंतर्गत अब तक 88 प्रतिशत नागरिकों का टीकाकरण कार्य किया जा चुका है। संबंधित सात प्रतिशत गेप की पूर्ति के लिए विशेष कार्ययोजना तय कर मूर्तरूप देने के निर्देश कलेक्टर द्वारा दिए गए है। कलेक्टर श्री भार्गव ने छात्रवृत्ति वितरण, जल मिशन के तहत कनेक्शन देने की कार्यवाही तथा टेम परियोजना के लिए भूमि अधिग्रहण तथा नीति आयोग से प्राप्त पांच करोड की राशि स्वास्थ्य कार्यो पर व्यय करने हेतु प्रोजेक्ट तैयार करने के निर्देश दिए है।

               बैठक में डब्ल्यूएचओ की प्रतिनिधि श्रीमती पुष्पा अवस्थी के द्वारा जिले में गर्भवती महिलाओं की देखभाल और संस्थागत प्रसव के लिए किए जाने वाले प्रबंधो के ंसंबंध में आवश्यक मार्गदर्शन दिया साथ ही राष्ट्रीय स्तर पर किन बिन्दुओं के क्रियान्वयन हेतु एक मात्र विदिशा जिले का चयन किया गया है। उन बिन्दुओं पर गहन प्रकाश डाला है।

               समीक्षा बैठक के दौरान जिन विभागों के अधिकारियों द्वारा अपडेट जानकारी से अवगत कराया गया है उनमें कृषि, शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क, खाद्य, कॉ-आपरेटिव, ऊर्जा, पीएचई, जिला पंजीयक, जिला योजना, गर्ल्स कॉलेज, मार्कफेड, सामाजिक न्याय विभाग, सम्राट अशोक सागर, लोक निर्माण विभाग, जल संसाधन, उद्यानिकी, पशु चिकित्सा, श्रम विभाग, के अलावा आरईएस विभाग में लंबित आवेदनों पर की गई कार्यवाही से संबंधित विभागीय अधिकारी के द्वारा अवगत कराया गया है।