औद्योगिक समस्याओं का समय सीमा में होगा निराकरण -DM

जिला स्तरीय निर्यात संवर्धन समिति की बैठक सम्पन्न

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @विदिशा रविकांत उपाध्याय/

                आत्म निर्भर अभियान के तहत एक जिला एक उत्पाद योजनांतर्गत विदिशा जिले में विशिष्ट उत्पाद के रूप मेंं कृषि उपकरण निर्माण एवं फ्लेग स्टोन टाइल्स का चयन जिला स्तरीय निर्यात संवर्धन समिति के द्वारा किया गया है।

                कलेक्टर उमाशंकर भार्गव की अध्यक्षता में आज जिला स्तरीय निर्यात संवर्धन समिति की बैठक नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में आयोजित की गई थी। इस बैठक में विदिशा विधायक शशांक भार्गव, भारतीय उद्योग व्यापार मण्डल के प्रदेश अध्यक्ष राजेश जैन सहित अन्य औद्योगिक व्यवसायी के अलावा विभिन्न विभागो के अधिकारी मौजूद रहें। 

                कलेक्टर श्री भार्गव ने उद्योगपतियों का आश्वस्त कराते हुए कहा कि औद्योगिक विकास संबंधी समस्याओं का समाधान समय सीमा में किया जाएगा। उन्होंने कोविड काल के दौरान आयी दिक्कतो से निजात दिलाने हेतु किस प्रकार की मदद की आवश्यकता महसूस करते है कि जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा कि विदिशा जिले में औद्योगिक व्यवसाय पूर्व स्थिति अनुसार सुदृढ हो इसके लिए उद्योगपतियों द्वारा जो सुधार दिए गए है उन पर अमल किया जाएगा।

                कलेक्टर श्री भार्गव ने सभी औद्योगिक क्षेत्रों के स्वामित्वों से आग्रह किया कि कोविड वैक्सीन का द्वितीय डोज अनिवार्यत शत प्रतिशत लगवाना सुनिश्चित करें इस कार्य में सभी की मदद अति आवश्यक है। उन्होंने कहा कि ऐसी सुविधाएं जिनकी प्राप्ति के लिए भोपाल जाना पड़ता है वे सब विदिशा जिले में ही प्राप्त हो सकें के पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित किए जाएंगे।

                कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने कहा कि जिला उद्योग एवं व्यापार केन्द्र कार्यालय में तमाम जानकारियां खासकर उद्योग स्थापना एवं व्यवसाय के संचालन में कौन-कौन से दस्तावेंजों की आवश्यकता पडती है कि तमाम जानकारियां एक ही कक्ष में उपलब्ध हो की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाएगी। उन्होंने जीएमडीआईसी को निर्देश दिए है कि आवश्यक दस्तावेंजो की पीडीएफ फाइल कर सभी औद्योगिक स्थापना के इच्छुको को उपलब्ध कराई जाए।

                औद्योगिक व्यवसाय का संचालन करने वालो के द्वारा अवगत कराया गया कि दो-दो कर एक साथ वसूले जाते है जिसमें औद्योगिक कर व नगरपालिका कर शामिल है। औद्योगिक क्षेत्र में साफ सफाई व स्ट्रीट लाइट की कमी की ओर कलेक्टर का ध्यान आकर्षित कराया। कलेक्टर श्री भार्गव ने आश्वस्त कराते हुए कहा कि मैं स्वंय नगरपालिका का प्रशासक हूं। आप सबके द्वारा नगरपालिका को सम्पत्तिकर दिया जाता है अतः साफ सफाई के कार्य नगरपालिका अमला के माध्यम से क्रियान्वित कराए जाएंगें।

                कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि विदिशा जिले में बाहरी उद्योगपतियों के द्वारा उद्योग का संचालन किया जाता है उन्हें भी तमाम सुविधाएं मुहैया कराई जाएगी। इस दौरान जम्बार बागरी औद्योगिक क्षेत्र में भूमि का रेट दर कम करने का प्रस्ताव का निर्णय शासन स्तर से सम्पादित होगा से भी अवगत कराया गया हैं उक्त बैठक में एक जिला एक उत्पाद योजना के अंतर्गत चयनित उत्पाद के निर्यात के अर्जित की गई राशि की विस्तृत जानकारियां औद्योगिक इकाईयों के द्वारा दी गई। इसके अलावा स्टेक होल्डर्स के साथ परामर्श, उत्पादकता, मानकीकरण संबंधी गतिविधियां, मार्केटिंग एवं ब्रांडिग तथा क्रेडिएशन गतिविधियां एवं निर्यात संबंधी गतिविधियों पर गहन विचार कर निर्णय लिए गए है। उद्योग विभाग के महाप्रबंधक पीडी वंशकार ने बैठक आयोजन के उद्वेश्यों, पूर्व बैठक में लिए गए निर्णयों का पालन प्रतिवेदन तथा उद्योग व्यसायियों के द्वारा अपनी समस्याओ के निराकरण हेतु समय-समय पर ध्यान आकर्षित कराया गया था उनके निराकरण पर की गई पहल पर गहन प्रकाश डाला है।