Vidisha कलेक्टर उमाशंकर भार्गव की अध्यक्षता में हुई शांति समिति की बैठक, त्यौहार भाईचारे के प्रतीक

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @ विदिशा मध्यप्रदेश रमाकांत उपाध्याय / 9893909059

विदिशा जिले का इतिहास रहा है कि सभी त्यौहार भाईचारे की भावना को और अधिक बढ़ावा देते है। आगामी त्यौहारो के परिपेक्ष्य में की जाने वाली तैयारियों की बिन्दुवार चर्चा आज शांति समिति की बैठक में की गई।

कलेक्टर उमाशंकर भार्गव की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई इस बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती गीता रघुवंशी, विदिशा जनपद पंचायत अध्यक्ष वीरसिंह रघुवंशी, सांसद प्रतिनिधि द्वय राकेश शर्मा, कैलाश रघुवंशी के अलावा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक समीर यादव के अलावा विभिन्न विभागों के अधिकारी तथा समिति के सम्माननीय सदस्यगण मौजूद रहे।

जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती गीता रघुवंशी ने जिले की परंपरा रही है कि शांतिपूर्ण तरीके से त्यौहार मनाए जाते रहे हैं इस परंपरा को हम आगे बढ़ाएं और पुलिस, प्रशासन द्वारा दिए गए निर्देशों का अक्षरशः पालन करें।

पुलिस कंट्रोल रूम में आयोजित की गई शांति समिति की बैठक में कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने कहा कि आगामी त्यौहारो के परिपेक्ष्य में शासन द्वारा जो गाइड लाइन जारी की जाएगी उसका पालन हम सब मिलकर सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि समिति के पदाधिकारियों द्वारा जन हितैषी सुझावो के साथ-साथ आवश्यक व्यवस्थाओं की पूर्ति हेतु विकल्प सुझाए गए हैं उन सबका क्रियान्वयन करने के निर्देश संबंधित विभागो के अधिकारियो को कलेक्टर द्वारा दिए गए हैं।

पुलिस कंट्रोल रूम के सभागार कक्ष में आगामी पर्वो के परिपेक्ष्य में आयोजित की गई उक्त शांति समिति की बैठक में साफ-सफाई, यातायात व्यवस्था, पंडालो में विधिवत विद्युत कनेक्शन, पेयजल व्यवस्था, विद्युत आपूर्ति, चिकित्सा, यातायात व्यवस्था, ध्वनि प्रदूषण और विसर्जन जानकी कुण्ड पर की जाने वाली व्यवस्थाओं के संदर्भ में विभिन्न विभागों के अधिकारियों को जबावदेंही सौपी गई है संबंधितों से अपेक्षा व्यक्त की गई कि वे अस्थायी विद्युत कनेक्शन लेने के उपरांत बिजली का उपयोग करें।

बैठक में निर्णय लिए गए हैं कि सुरक्षा की दृष्टि से वाहनों की जांच की जाएगी तथा सड़क व हाईवे सड़कों पर खड़े ट्रकों को हटाने की कार्यवाही सुनिश्चित करने हेतु संबंधित अधिकारी को निर्देश दिए गए हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में लगाई जाने वाली झांकियों हेतु भी निर्देश जारी किए गए हैं। इसी प्रकार गरबा महोत्सव हेतु रात्रि 11 बजे तक का समय निर्धारित किया गया है तथा अजनबी व्यक्ति गरबा महोत्सव में प्रवेश ना कर पाएं के लिए पुख्ता प्रबंध सुनिश्चत करने के निर्देश दिए गए हैं। सराय, होटलों में ठहरने वालों के अलावा मकान किराएदारों की जानकारी देने के निर्देश भी बैठक में दिए गए हैं।

गतवर्ष की भांति इस वर्ष भी मूर्तियों का विसर्जन जानकी कुण्ड में किया जाएगा। इसके लिए तमाम प्रबंध सुनिश्चित किए जाए साथ ही साफ सफाई व प्रकाश व्यवस्था पर बल देते हुए स्थायी कुण्ड निर्माण सुझाव से अवगत कराया गया। विसर्जन स्थलों पर गोताखोर, नाव, प्रकाश और साफ-सफाई के पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित कराने का आश्वासन दिया है।

पुलिस अधीक्षक श्रीमती मोनिका शुक्ला ने बैठक में बताया कि त्यौहारो के मद्देनजर किए जाने वाले प्रबंधो की व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएगी। नियत स्थलों पर पुलिस बल तैनात किया जाएगा। उन्होने प्रतिमा स्थल की सुरक्षा मेंं आयोजक समिति के सदस्य भी सहयोग करे की अपेक्षा व्यक्त करते हुए कहा कि चल समारोह की झांकियों में विद्युत वायरिंग किसी भी प्रकार के हथियारों का प्रदर्शन पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा।

त्यौहारों के दौरान यातायात व्यवस्था सुचारू रूप से बनी रहे इसके लिए किए जाने वाले प्रबंधो पर विचार विमर्श किया गया है पुलिस अधीक्षक द्वारा ततसंबंध में यातायात प्रभारी तथा सिटी कोतवाली एवं देहात थाना के निरीक्षको को आवश्यक जबावदेंही सौंपी है।

सफाई व्यवस्था-

नगर पालिका सीएमओ को निर्देश दिए गए हैं कि संपूर्ण नगर में विशेषकर जिन-जिन स्थानों पर दुर्गा प्रतिमाओं की स्थापना होना है एवं दुर्गा मंदिर तथा अन्य धार्मिक मंदिरों तथा चौकी स्थापना स्थलों के आसपास सफाईकर्मियों का विशेष दल गठित कर सफाई कामगारों से प्रतिदिन सफाई कराई जाकर ब्लीचिग पाउडर डलवाया जाए। डेंगू के प्रसार को दृष्टिगत रखते हुए खाली पडे प्लॉटो तथा नालियो में दवा का छिडकाव कराया जाए, फागिंग मशीन का उपयोग भी नियमित किया जाए।

सड़क मरम्मत एवं निर्माण –

मुख्य नगर पालिका अधिकारी विदिशा एवं कार्यपालन यंत्री, लोक निर्माण विभाग विदिशा को निर्देश दिए गए हैं कि बारिश में सड़कों पर जगह-जगह हुए गड्ढों को भरवाकर सड़कों की मरम्मत का कार्य तत्परता से समयसीमा में पूर्ण कराया जावे। ऐसे स्थान जहां पर झॉकीयो की स्थापना की जाना है, उस स्थान के आस-पास के गड़ढो को प्राथमिकता से भरवाया जावे।

 

पेयजल व्यवस्था-

मुख्य नगरपालिका अधिकारी को संपूर्ण पर्वो के दौरान नगर में स्वच्छ जल आपूर्ति की व्यवस्था सुनिश्चित करने हेतु निर्देशित किया गया।

विसर्जन स्थल जानकी कुण्ड पर व्यवस्था-

मूर्तियो का विसर्जन जानकी कुंड में किया जावे। बड़ी झांकियों के विसर्जन हेतु पूर्व की भांति दो क्रेन की व्यवस्था जानकी कुंड पर किया जावे। जानकी कुंड पर पर्याप्त विद्युत व्यवस्था एवं साफ-सफाई व्यवस्था सुनिश्चित की जावे। जिला सैनानी होमगार्ड विदिशा घाट पर दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन हेतु होमगार्ड के जवान, तैराक, राफ्ट नाव, लाइफ जैकेट, गोताखोर तथा ट्यूब आदि की व्यवस्था कर विसर्जन स्थल पर पूरे समय सैनिको की शिफ्वाईज ड्यूटी लगाकर तैनात रखेंगे, तथा व्यवस्थाओं की देखरेख स्वयं कम्पनी कमाण्डेंट होमगार्ड द्वारा की जावेगी। विसर्जन स्थल पर छोटे-छोटे बच्चों को जानकी कुंड पर व नदी के नजदीक न जाने दिया जावे तथा जानकी कुंड पर बेरिकेटिंग की उचित व्यवस्था की जावे।