Vidisha कोरोना की रोकथाम हेतु शुरू होगा दस्तक अभियानः प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग

विभिन्न विभागों के कार्यों की समीक्षा कर दिए निर्देश

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @ विदिशा मध्यप्रदेश रमाकांत उपाध्याय/ 9893909059 

चिकित्सा शिक्षा भोपाल गैस त्रासदी राहत एवं पुनर्वास विभाग व विदिशा जिले के प्रभारी मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने बुधवार को नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में विभिन्न विभागों के कार्यों की समीक्षा बैठक की।
प्रभारी मंत्री श्री विश्वास सांरग ने कहा कि हमने यह निश्चित किया है कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम हेतु नवाचार किया जा रहा है। अगले हफ्ते से विदिशा जिले में दस्तक अभियान की शुरूआत होगी। इस अभियान के माध्यम से डोर-टू-डोर संपर्क कर कोरोना से बचाव के उपायों की जानकारी दी जाएगी। वहीं यदि किसी घर में कोई व्यक्ति सर्दी, जुकाम या खांसी से संक्रमित पाया जाता है तो उसका सैम्पल लेंगे और रोगोपचार दवाईयों का किट भी मौके पर संपर्क करने वाली टीम के द्वारा प्रदाय किया जाएगा। उपरोक्त व्यवस्था अर्थात दस्तक अभियान का विस्तार गांव तक क्राईसेस मैनेजमेंट समितियों का भी सहयोग लेकर किया जाएगा। हर घर पहुंच हो इसके लिए उन्होंने जनप्रतिनिधियों से भी जिले में हो रहे नवाचार में सहयोग करने का आव्हान किया।
प्रभारी मंत्री श्री सारंग ने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए स्थानीय बोली में साहित्य तैयार कर ग्रामीण क्षेत्रों में घर-घर वितरित किया जाए। ताकि ग्रामीणजन विभिन्न संसाधनों से अवगत होने के उपरांत कोरोना संक्रमण से बचाव अभियान तहत स्वयं जाग्रत हो सकें और दूसरों को जाग्रत करें।
प्रभारी मंत्री श्री विश्वास सारंग ने दस्तक अभियान का सुव्यवस्थित रूप से क्रियान्वयन हो, त्वरित जानकारियां संप्रेषण हों इसके लिए आवश्यक सोशल मीडिया के प्लेटफार्मों का उपयोग करते हुए स्थानीय स्तर तक जानकारियां प्रेषित करने के लिए प्रथक से व्हाटस एप्प गुप तैयार करने के निर्देश उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को दिए हैं। यह सुनिश्चित किया गया है कि हर एक ग्रुप का एक व्हाट्सएप्प ग्रुप बनाएंगे और उस ग्रुप के माध्यम से विदिशा जिले के एक-एक घर को कोरोना की लड़ाई लड़ने के संकल्प के साथ जोड़कर विदिशा जिला कोरोना मुक्त बनाएंगे।
प्रभारी मंत्री श्री सारंग ने विभिन्न विभागों के कार्यों की समीक्षा बैठक में स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि जो भी हितग्राही मूलक कार्य, हितग्राही को लाभांवित विकास कार्य सुनिश्चित किए जाते हैं उन कार्यों की जानकारी स्थानीय विधायकों की जानकारी में अवश्य लाई जाए साथ ही लोकार्पण, शिलान्यास कार्यक्रम विधायक सहित अन्य जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में ही कराया जाना सुनिश्चित हो। इस कार्य में किसी भी प्रकार की कोताही न बरती जाए।
प्रभारी मंत्री श्री विश्वास सारंग ने कहा कि जनप्रतिनिधियों द्वारा विभागों से जो जानकारियां आपेक्षित रहती हैं वह शीघ्र-अतिशीघ्र उपलब्ध कराई जाएं। उन्होंने कहा कि स्थानीय जनप्रतिनिधिगणों को विश्वास में लेकर कार्यों की संपादन कराने के दौरान किसी भी प्रकार की अव्यवस्थाएं अथवा विरोध स्थानीय स्तर पर होने पर उसका त्वरित समाधान जनप्रतिनिधियों के माध्यम से संभव है।
प्रभारी मंत्री श्री सारंग ने कहा कि समीक्षा बैठक के दौरान जनप्रतिनिधियों के द्वारा जो जनहितेषी सुझावों से अवगत कराया गया है उन सबको प्रोसेटिंग में दर्ज कर क्रियान्वयन कराने के प्रबंध सुनिश्चित किए जाएं। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की बैठकों को रस्म अदायगी के रूप में न आंका जाए।
आज सम्पन्न हुई बैठक में सर्वसम्मति से लिए गए निर्णयों पर प्रभारी मंत्री ने भी सहमति व्यक्त की है। तदानुसार नटेरन में मॉडल हाईस्कूल हेतु भूमि दान की की गई है। स्कूल का नामकरण स्व. श्री मूलचंद धाकड़ के नाम पर करने की सहमति तथा महाविद्यालय का नामकरण हेतु प्रस्ताव उच्च शिक्षा विभाग को प्रेषित करने पर सहमति प्रदाय की गई है।


प्रभारी मंत्री श्री सारंग ने प्राप्त सुझावों पर सहमति व्यक्त करते हुए कहा कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण का नियंत्रण करने के लिए हर स्तर पर पहल की जाए। उन्होंने सभी विद्यालयों कक्षा 8वीं तक के विद्यार्थियों को ऑनलाईन शैक्षणिक सुविधाओं तथा महिला बाल विकास विभाग के आंगनबाड़ी केन्द्रों में दर्ज बच्चों को मध्यान्ह भोजन घर तक पहुंचाने की व्यवस्था क्रियान्वित की जाए। ताकि ऐसे बच्चे जिनका अभी टीकाकरण नहीं हो रहा है वे बच्चे कोरोना के संक्रमण से बचे रहें। प्रभारी मंत्री श्री सारंग ने जिले में जारी 15 से 18 आयुवर्ग के विद्यार्थियों का टीकाकरण कार्य की प्रशंसा करते हुए ऐसे 17 हजार बच्चे जो स्कूलों से ड्रॉप आउट हैं उनके टीकाकरण हेतु पृथक से कार्ययोजना तैयार कर विधायकगणों के सहयोग से उन बच्चों का भी टीकाकरण नियत अवधि में कराया जाना सुनिश्चित हो।
बैठक में कोरोना से बचाव तथा संक्रमण को रोकने के लिए और क्या बेहतर प्रबंध सुनिश्चित किए जाएं के संदर्भ में आवश्यक सुझावों से सागर सांसद राजबहादुरसिंह, विदिशा सांसद रमाकांत भार्गव, सिरोंज विधायक उमाकांत शर्मा, कुरवाई विधायक हरिसिंह सप्रे, शमशाबाद विधायक श्रीमति राजश्रीसिंह, बासौदा विधायक श्रीमति लीना जैन के अलावा जिला स्तरीय क्राईसेस मेनेजमेंट समिति के सदस्य राकेश जादौन, मुकेश टण्डन, संदीपसिंह डोंगर, तोरणसिंह दांगी ने अवगत कराया है।
प्रभारी मंत्री श्री विश्वास सारंग ने जिला योजना समिति की बैठक में निर्देश दिए हैं कि शासन की मंशा अनुसार जिले में संचालित विभिन्न जनकल्याणकारी योजना अंतर्गत मिलने वाले ऋण के लिए बैंक अधिकारियों की बैठक कर स्वीकृत ऋण संबंधित जानकारी से अवगत कराएं एवं लक्ष्यों की प्राप्ती करें। उपरोक्त बैठक के शुभारंभ में पिछली बैठक के पालन प्रतिवेदन का वाचन किया गया। गत बैठक में लिए गए निर्णयों के क्रियान्वयन से कलेक्टर उमाशंकर भार्गव ने भी अवगत कराया। बैठक में समिति के सदस्यगणों के अलावा पुलिस अधीक्षक डॉ मोनिका शुक्ला, जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट, सीएमएचओ डॉ एपी सिंह सहित विभिन्न विभागों के जिलाधिकारी मौजूद रहे।

प्रभारी मंत्री द्वारा मेडिकल कॉलेज में किए गए चिकित्सीय प्रबंधों का जायजा
चिकित्सा शिक्षा, भोपाल गैस त्रासदी राहत एवं पुनर्वास विभाग मंत्री एवं विदिशा जिले के प्रभारी मंत्री श्री विश्वास सारंग ने आज बुधवार को विभागों की समीक्षा बैठक के उपरांत अटल बिहारी वाजपेयी शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय का निरीक्षण कर चिकित्सीय प्रबंधों का जायजा लिया।
प्रभारी मंत्री श्री सारंग ने मेडिकल कॉलेज में कोरोना संक्रमण के उपचार हेतु की गई व्यवस्था का अवलोकन किया। इस दौरान मेडिकल कॉलेज के एमएस डॉ डीडी परमहंस ने विस्तृत जानकारी से अवगत कराया।
प्रभारी मंत्री श्री सारंग को मेडिकल कॉलेज के नर्स पैरामेडिकल स्टॉफ सहित अन्य के द्वारा आवेदन प्रस्तुत कर अवगत कराया गया कि पिछले तीन माह से वेतन नहीं मिल रहा है। मंत्री श्री सारंग ने ततसंबंध में कमिश्नर मेडिकल एजुकेशन से मोबाईल पर चर्चा के उपरांत शीघ्र ही बजट आवंटन कराने का आश्वासन दिया है ताकि वेतन हर माह आहरण हो सके।

 

 

स्वरोजगार, रोजगार दिवस-हितग्राहियों को स्वीकृति पत्रों का वितरण किया

चिकित्सा शिक्षा, भोपाल गैस त्रासदी राहत एवं पुनर्वास विभाग मंत्री एवं विदिशा जिले के प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग ने बुधवार को विदिशा में स्वरोजगार, रोजगार दिवस कार्यक्रम में सम्मिलित होकर हितग्राहियों को स्वीकृति पत्र प्रदाय किए। वहीं आयोजन स्थल एसएटीआई कॉलेज के कैलाश सत्यार्थी हॉल के परिसर में विभिन्न विभागों के द्वारा लगाई गई प्रदर्शनियों का अवलोकन किया। वहीं लाभांवित हितग्राहियों के जीवन में आए परिवर्तन की जानकारी उन्होंने हितग्राहियों से संवाद कर प्राप्त की है।
विदिशा जिले में आज सम्पन्न हुए जिला स्तरीय स्वरोजगार, रोजगार दिवस के माध्यम से 2922 हितग्राहियों को 2335.28 लाख रूपये के स्वीकृति पत्र प्रदाय किए जाएंगे। 
कार्यक्रम को सागर सांसद राजबहादुरसिंह, विदिशा सांसद  रमाकांत भार्गव ने संबोधित किया। वहीं कलेक्टर उमाशंकर भार्गव ने आयोजन के उद्देश्यों पर प्रकाश डाला।
एसएटीआई के कैलाश सत्यार्थी हॉल में आयोजित स्वरोजगार, रोजगार कार्यक्रम का शुभारंभ सर्वप्रथम कन्या पूजन के साथ किया गया। कार्यक्रम के दौरान भोपाल के मिंटो हाल में आयोजित मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के लाइव उद्बोधन को एसएटीआई के कार्यक्रम स्थल पर मौजूद अतिथियों हितग्राहियों एवं आमजनों ने देखा और सुना। इस दौरान मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जिलों में क्रियान्वित योजनाओं से लाभांवित हितग्राहियों से संवाद किया जिसे मौजूद अतिथियों एवं अन्य हितग्राहियों और आमजनों ने देखा।

स्वीकृति पत्रों का वितरण-
स्वरोजगार, रोजगार कार्यक्रम अंतर्गत कैलाश सत्यार्थी हॉल में बनाए गए मंच से चिकित्सा शिक्षा, भोपाल गैस त्रासदी राहत एवं पुनर्वास विभाग मंत्री एवं विदिशा जिले के प्रभारी मंत्री श्री विश्वास सारंग एवं मंच पर उपस्थित समस्त अतिथियों के द्वारा हितग्राही मूलक योजनाओं से लाभांवित हितग्राहियों को स्वीकृति पत्र एवं चेक का वितरण किया गया है।