Vidisha जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी में 12 से 14 वर्ष आयु वर्ग के बालक बालिकाओं का कोविड-19 टीकाकरण का हुआ शुभारंभ

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @ विदिशा मध्यप्रदेश रमाकांत उपाध्याय / 9893909059

बुधवार से 12 से 14 वर्ष आयुवर्ग के बालक बालिकाओं का कोविड-19 टीकाकरण प्रारंभ हुआ। टीकाकरण कार्यक्रम का शुभारंभ विदिशा के शेरपुरा कन्या मिडिल स्कूल में विदिशा विधायक शशांक भार्गव, जो ला क्राइसिस मैनेजमेंट समिति के सदस्यगण मुकेश टंडन, संदीप डोंगर, अन्य जनप्रतिनिधि के अलावा कलेक्टर उमाशंकर भार्गव, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर एके उपाध्याय, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ डीके शर्मा, जिला शिक्षा अधिकारी अतुल मोदगिल, तहसीलदार श्रीमती सरोज अग्निवंशी, प्रभारी जिला मीडिया अधिकारी बीएस दांगी आदि की उपस्थिति में मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया।

कार्यक्रम शुभारंभ उपरांत 12 से 14 आयुवर्ग के बच्चों को टीका लगाया गया। कार्यक्रम में उपस्थित सभी जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों, कर्मचारियों द्वारा टीकाकरण कार्यक्रम की सराहना करते हुए टीकों को पूर्णता सुरक्षित बताया।

 

इस अवसर पर विधायक शशांक भार्गव ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि बड़े ही खुशी की बात है कि 12 से 14 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों का टीकाकरण प्रारंभ किया गया है। उन्होंने कहा कि पिछले 2 वर्ष से कोरोना काल में सभी को परेशानियों का सामना करना पड़ा है लेकिन अब स्थिति सामान्य है। विधायक श्री भार्गव ने वैज्ञानिकों के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया है।

जिला क्राइसिस मैनेजमेंट समिति के सदस्य मुकेश टंडन ने प्रधानमंत्री जी एवं मुख्यमंत्री जी के प्रति धन्यवाद देते हुए कहा कि कोरोना वायरस से देश के नागरिक सुरक्षित रहें इस हेतु उन्होंने कोई कोर कसर नहीं छोड़ी उनकी ओर से सभी प्रयास किए गए।

श्री टंडन ने कहा कि कोरोना वायरस से बचाने के लिए मुख्यमंत्री जी ने राजनीतिक सामाजिक और धार्मिक संगठनों को साथ में लेकर कार्य किया है और लोगों को जागरूक करने हेतु भी प्रयास किए। उन्होंने टीकाकरण अभियान से जुड़े सभी अधिकारी कर्मचारियों सहित स्वास्थ्य विभाग की टीम और सामाजिक धार्मिक संगठनों मीडिया बंधुओं के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया है। उन्होंने निर्धारित आयु वर्ग के टीकाकरण हेतु सभी अभिभावकों से आग्रह किया है कि कोरोना संक्रमण से बचने हेतु वह अपने बच्चों को टीका अवश्य लगवाएं।

कलेक्टर उमाशंकर भार्गव ने बताया कि विदिशा जिले में टीकाकरण कार्य हेतु निर्धारित आयु वर्ग के 88 हजार बच्चे हैं जिनमें से 64 हजार का लक्ष्य रखा गया है। जिनका वैक्सीनेशन करने हेतु अभियान प्रारंभ किया गया है इसके अलावा वह बच्चे जो शाला त्यागी हैं जो सरकारी या प्राइवेट स्कूल में दर्ज नहीं है उनका भी चिह्नांकन कर उनको भी वैक्सीन लगाने का कार्य किया जाएगा।

साढे़ पांच हजार से अधिक बच्चों का टीकाकरण हुआ 

12 से 14 आयु वर्ग के बच्चों का कोरोना वैक्सीनेशन टीकाकरण कार्य बुधवार 23 मार्च से जिले में शुरू हुआ है। अभियान के पहले दिन सायं चार बजे तक 5678 बच्चों का टीकाकरण किया गया है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एपी सिंह ने बताया कि निर्धारित शैक्षणिक संस्थाओं में अध्ययनरत 12 से 14 आयु वर्ग के बच्चों का टीकाकरण कार्य सुव्यवस्थित रूप से सम्पन्न हो इसके लिए स्कूल शिक्षा विभाग के माध्यम से सहयोग प्राप्त किया जा रहा है वहीं ऐसे बच्चे जो शाला त्यागी है उनके टीकाकरण हेतु अन्य विभागों के अमले की भी मदद ली जा रही है।

प्रत्येक टीकाकरण केन्द्र पर बच्चों को ओआरएस का घोल पहले पिलाया जा रहा है इसके पश्चात टीकाकरण कार्य किया जा रहा है। टीका लगने के उपरांत आधे घंटे तक बच्चे का कमरे में बिठाया जा रहा है ताकि किसी भी प्रकार की उन्हें परेशानी होती है तो शीघ्र उसका उपचार किया जा सकें।

वेक्सीन लगी तो मिली सुरक्षा, पीएम का धन्यवाद

वैक्सीनेशन के पुख्ता प्रबंध से प्रसन्न मुद्रा में दिखीं छात्राएं

वैक्सीन लगी तो सुरक्षा मिली यह कहना है शेरपुरा कन्या मिडिल स्कूल मैं कक्षा आठ में अध्ययनरत छात्रा सुमन किरार का। बुधवार को 12 से 14 आयु वर्ग के बालक-बालिकाओं का कोविड-19 टीकाकरण प्रारंभ हुआ है। शेरपुरा स्थित कन्या मिडिल स्कूल में भी टीकाकरण हेतू पुख्ता प्रबंध किए गए थे। स्कूल की ही छात्रा सुमन किरार ने भी वैक्सीन का पहला डोज लगवाया। इसके उपरांत उन्होंने कहा कि कोविड-19 वायरस से बचने हेतु सभी को वैक्सीनेशन कराना आवश्यक है। उन्होंने वैक्सीनेशन के फर्स्ट डोज के लिए प्रधानमंत्री जी का धन्यवाद ज्ञापित करने के साथ-साथ विदिशा जिले की स्वास्थ्य विभाग की टीम को भी धन्यवाद दिया है। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि वैक्सीनेशन के पश्चात स्कूल परिसर में ही ओआरएस घोल सभी छात्राओं को पिलाने की व्यवस्था भी की गई थी।

इसके अलावा शेरपुरा स्थित कन्या मिडिल स्कूल में ही अध्ययनरत छात्रा सोनिका राठौर, पायल कुशवाहा और छवि धाकड़ सहित अन्य छात्राओं ने भी टीकाकरण कराया है। उन्होंने भी टीकाकरण कराने के पश्चात शासन, प्रशासन के प्रति धन्यवाद दिया