मेडिकल कॉलेज में एक माह में सिटी स्कैन और दो माह में एमआरआई मशीन – मुख्यमंत्री

मेडिकल कॉलेज मेरा ड्रीम प्रोजेक्ट, इलाज के सभी प्रबंध सुनिश्चित किए जाएंगे, आवश्यक उपकरणों एवं स्टॉफ पदों की पूर्ती शीघ्र होगी,

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @ विदिशा रविकांत उपाध्याय/  

               मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने बुधवार को विदिशा प्रवास के दौरान अटल बिहारी वाजपेयी शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय के विभिन्न वार्डो का निरीक्षण किया और भर्ती मरीजो से संवाद किया है। उन्होंने मेडिकल कॉलेज में कोविड इलाज हेतु किए गए प्रबंधो के संबंध में भी जानकारी प्राप्त की है। 

               मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि मेडिकल कॉलेज मेरा ड्रीम प्रोजेक्ट है। उन्होंने कहा कि निरीक्षण के दौरान जो कमियां संज्ञान में लाई गई हैं उनकी पूर्ति शीघ्रतिशीघ्र की जाएगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मेडिकल कॉलेज में एक माह में सिटी स्केन मशीन और दो माह के भीतर एमआरआई मशीन स्थापित कर क्रियाशील हो जाएगी। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि मेडिकल कॉलेज में कुल 132 फेकल्टी में से 73 पदस्थ है शेष अन्य की पदस्थापना कार्य भी शीघ्रतिशीघ्र पूरा किया जाएगा।

               मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मेडिकल कॉलेज जिले के लिए बडी सौगात है हमारा लक्ष्य सम्पूर्ण स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराना है ताकि इलाज हेतु जिले से बाहर केस रेफर ना हो। उन्होंने कहा कि भव्य इमारत में आधुनिक पूर्ण स्वास्थ्य सुविधाओं की पूर्ति नवीन स्वरूप में मिलेगी। अभी आपरेशन थियेटर संचालित होने लगे है वे पूरी क्षमता के साथ क्रियाशील हो के संबंध में चिकित्सकों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए है।

 

पौधरोपण

               मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने अटल बिहारी वाजपेयी शासकीय चिकित्सा मेडिकल कॉलेज परिसर में बरगद (वटवृक्ष) का पौधा रोपित किया। 

वहीं श्रीमती साधना सिंह ने आम का पौधा लगाया है।

श्री बाढ़ वाले गणेश मंदिर में पूजा अर्चना की

               मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने सपत्नीक श्रीमती साधना सिंह के साथ श्री बाढ़ वाले गणेश मंदिर में पहुंचकर पूजा अर्चना की

               इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष तोरण सिंह दांगी, कुरवाई विधायक हरिसिंह सप्रे, शमशाबाद विधायक श्रीमती राजश्री रूद्र प्रताप सिंह, बासौदा विधायक श्रीमती लीना जैन, विदिशा नगरपालिका के पूर्व अध्यक्ष मुकेश टण्डन, जिला क्राईसेस मैनेजमेंट समिति के सदस्य डॉ राकेश जादौन के अलावा अन्य जनप्रतिनिधियों के अलावा कलेक्टर उमाशंकर भार्गव, पुलिस अधीक्षक डॉ मोनिका शुक्ला, वन संरक्षक राजवीर सिंह, मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ सुनील नंदेश्वर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एपी सिंह के अलावा अन्य चिकित्सक तथा विभिन्न विभागो के अधिकारी व गणमान्य नागरिक मौजूद रहे।