Vidisha जिले में 12 से 14 आयु वर्ग का कोविड वैक्सीनेशन 23 से

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @ विदिशा मध्यप्रदेश रविकांत उपाध्याय / 8085883358


कोविड-वैकसीनेशन के संबंध में जारी नवीन दिशा निर्देशों के अनुसार विदिशा जिले में भी 12 से 14 आयु वर्ग के बच्चों का टीकाकरण कार्य 23 मार्च से शुरू होगा। कलेक्टर उमाशंकर भार्गव ने जिले में निर्धारित आयु वर्ग के बच्चों का शत-प्रतिशत टीकाकरण कार्य सुव्यवस्थित रुप से संपन्न हो इसके लिए संबंधितों को आवश्यक दिशा निर्देश प्रसारित किए हैं।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एके उपाध्याय ने बताया कि भारत शासन स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी गाइडलाइन के परिपेक्ष में राज्य स्तर से प्राप्त दिशा निर्देश अनुसार टीकाकरण संबंधी समुचित कार्यो का जिले में क्रियान्वयन सुनिश्चित किया गया है। बुधवार 23 मार्च से 12 वर्ष से 14 वर्ष तक के समस्त बालक बालिकाओं का कोविड-19 टीकाकरण हेतु जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ डीके शर्मा के द्वारा सभी विभागों के समन्वय से प्रारंभ किया जा रहा है।
जाएगा।
सीएमएचओ डॉ उपाध्याय ने बताया कि प्राप्त दिशा निर्देश अनुसार वर्ष 2008 एवं 2009 में जन्मे समस्त बालक बालिका कोविड-19 टीकाकरण हेतु पात्र होंगे एवं वर्ष 2010 में जन्मे ऐसे बालक बालिका जिन्होंने 12 वर्ष की आयु पूर्ण कर ली हो उन सबको कोविड-19 टीकाकरण हेतु पात्र माना जाएंगे।
टीकाकरण पात्रता हेतु सत्र स्थलों पर उपलब्ध वेरीफायर एवं वैक्सीनेटर की जिम्मेदारी रहेगी यदि किसी की भी एक पोर्टल पर एंट्री हो जाती है लेकिन उन्होंने 12 वर्ष की आयु पूर्ण नहीं की तो ऐसे बालक बालिकाओं का टीकाकरण नहीं किया जावेगा। सीएमएचओ डा उपाध्याय के अनुसार 12 वर्ष से 14 वर्ष के समस्त बालक बालिकाओं को कॉर्विवेक्स वैक्सीन से टीकाकरण किया जावेगा इसके दोनों टीके के मध्य 28 दिनों का अंतराल होना जरूरी है। जिले में 12 से 14 वर्ष आयु वर्ग के बालक बालिकाओं के पंजीकरण की सुविधा कोविन पोर्टल पर ऑनलाइन उपलब्ध रहेगी एवं ऑनसाइट पंजीयन की सुविधा भी सत्र स्थल पर उपलब्ध होगी।
वैक्सीनेशन हेतु लक्ष्य-
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एके उपाध्याय ने बताया कि 12 से 14 आयु वर्ग के टीकाकरण हेतु लक्ष्य निर्धारित किया गया है जिसमें बासौदा हेतु 13 हजार 268, ग्यारसपुर हेतु 5 हजार 763, कुरवाई हेतु 6 हजार 785, लटेरी हेतु 6 हजार 347, नटेरन हेतु 8 हजार 270, सिरोंज हेतु 10 हजार 180 और विदिशा हेतु 14 हजार 231 इस प्रकार 12 से 14 आयु वर्ग के कुल 64 हजार 844 बच्चों का वैक्सीनेशन करने हेतु लक्ष्य निर्धारित किया गया है।
———————–
बैठक कर बनाई रूपरेखा

23 मार्च 2022 से 1214 वर्ष आयु वर्ग के बालक बालिकाओं को कोविड-19 वैक्सीनेशन कार्य प्रारंभ होगा विदिशा जिले में उक्त कार्य हेतु पूर्व में ही मुक्ता प्रबंध सुनिश्चित करने के साथ ही आवश्यक कार्य पूर्ण कर लिए गए हैं।
बुधवार 23 मार्च को टीकाकरण कार्य का शुभारंभ प्रातः 10.30 बजे कन्या मिडिल स्कूल शेरपुरा विदिशा में विदिशा विधायक श्री शशांक भार्गव, जिला पंचायत अध्यक्ष तोरण सिंह दांगी, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष मुकेश टंडन के द्वारा किया जाएगा।
आज सोमवार को जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एके उपाध्याय के नेतृत्व में एवं जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ डीके शर्मा के समन्वय से जिला शिक्षा अधिकारी एवं उनकी टीम के साथ दिनांक 23 मार्च से प्रारंभ होने जा रहे 12 वर्ष से 14 वर्ष तक के बालक बालिकाओं के कोविड-19 के टीकाकरण के संबंध में चर्चा कर रूपरेखा तैयार की गई है।
बैठक में जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एके उपाध्याय द्वारा अवगत कराया गया कि स्कूलों में 12 से 14 आयु वर्ग के जिन बच्चों का टीकाकरण किया जाएगा उन्हें पूर्व में ही समझाईश दी जाए कि वह भोजन करने के पश्चात की टीका लगवाएं।
निर्देश दिए गए हैं स्कूलों में भी एक मटके में ओआरएस का घोल बनाकर रखा जाए एवं बच्चों को टीकाकरण के पूर्व एक गिलास ओआरएस का घोल पिलाया जाए।
जिले में कुल 111 कोविड-19 टीकाकरण सत्र लगाए जाएंगे। जिनमें विकासखंड विदिशा में 21, बासौदा में 9, नटेरन में 17, कुरवाई में 11, सिरोंज में 16, लटेरी में 12 एवं ग्यारसपुर में 25 सत्र आयोजित किए जाएंगे।
विदिशा विकासखंड में जो सत्र आयोजित किए जाएंगे वह इस प्रकार है-
वात्सल हाई सेकेंडरी स्कूल हरीपुरा,
ट्रिनिटी कान्वेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल, सैंटमैरी हायर सेकेंडरी स्कूल, साकेत शिशु रंजन मिडिल स्कूल, साकेत एमजीएम सीनियर सेकेंडरी स्कूल कपूर गार्डन के पास, ऑल एंजेल्स स्कूल एमएलबी गर्ल्स स्कूल, माधवगंज क्रमांक दो, शासकीय गर्ल्स हायर सेकेंडरी स्कूल शेरपुरा, शासकीय मिडिल स्कूल स्टेशन एरिया, ओलंपस स्कूल धतूरिया, गुड ब्राइट फ्यूचर स्कूल विदिशा, सेपियेंट पुपिल्स स्कूल विदिशा, विनायक बाल विद्या मंदिर विदिशा को शामिल किया गया है। जिनमें 21 टीमें टीकाकरण कार्य करेंगी।