Ganjbasoda गौपूजन कर मनाई गौपाष्टमी, विहिप केंद्रीय सहमंत्री राजेश तिवारी ने बताया आध्यात्मिक महत्व

GANJBASODA madhya pradesh RAMAKANT UPADHYAY 9893909059

विश्व हिंदू परिषद द्वारा संचालित गौशाला रामजानकी मंदिर गौधाम आश्रम में गोपाष्टमी का पर्व गौ पूजन कर एवं गायों को गुड़ एवं घास खिलाकर मनाया गया।

इस अवसर पर विहिप केंद्रीय सह मंत्री राजेश तिवारी ने कहा कि हमारे शास्त्रों में गौमाता को लक्ष्मी की संज्ञा दी गयी है। प्राचीन समय में गाय कृषि का आधार थी परिवार की आजीविका का साधन होती थी परंतु आधुनिक युग में रसायन युक्त खेती हो रही है जिसके दुष्परिणाम देखने को मिल रहे हैं गौ दुग्ध और उसके उत्पाद मिलना दुर्लभ हो गया है। जबकि कई वैज्ञानिक अनुसंधानों में सिद्ध हुआ है, कि गाय का दूध, दही, घी यहां तक की गौमूत्र और गोबर भी औषधि है गाय स्वयं जीता जागता देवालय और औषधालय है। इस अवसर पर गौशाला में काम करने वाले कर्मचारियों का भी तिलक लगाकर पुष्पहार पहनाकर सम्मान कर उत्कृष्ट कार्य के लिये प्रोत्साहित किया।


इस अवसर पर जिला गौ संवर्धन वोर्ड के उपाध्यक्ष एवं विहिप प्रांत सह गौरक्षा प्रमुख नीलेश अग्रवाल, विभाग सत्संग प्रमुख सुरेंद्र ठाकुर, विभाग विशेष संपर्क प्रमुख नितिन सक्सेना, नपा उपाध्यक्ष संदीप ठाकुर, जिला मंत्री अभिषेक शर्मा गुरुजी, नगर अध्यक्ष रामकृष्ण राजपूत, विहिप गौरक्षा आयाम की टोली में जिला गौ संवर्धन प्रमुख विपिन देव, मांस निर्यात विरोध परिषद प्रमुख भजन प्रजापति, गौरक्षा आंदोलन समिति प्रमुख अतुल ठाकुर, पार्षद नारायण सोनी, जिला समरसता प्रमुख दिलीप देसाई, राजेश झा, माधौ महाराज उपस्थित थे।