Ganjbasoda हर्षोल्लास से मनी गुरु नानकदेव जी जयंती, लंगर प्रसादी हुई वितरित

GANJ BASODA madhya pradesh RAMAKANT UPADHYAY 9893909059

गुरु नानक जयंती के पावन अवसर पर सिख समुदाय द्वारा प्रकाश पर्व उत्सव हर्षोल्लास से मनाया गया। 8 नवंबर को चंद्र ग्रहण होने के कारण प्रकाश पर्व 7 नवंबर को मनाया गया। गुरु नानक देव जी का जन्म 1526 को कार्तिक मास की पूर्णिमा के दिन हुआ था इसी दिन को उत्सव के रूप में मनाने के लिए सिख धर्म के लोग इसे प्रकाश पर्व के रूप में मनाते हैं।

 वार्ड नंबर 16 में पंजाबी समाज द्वारा गुरुद्वारा साहिब में दीवान सजाया गया। प्रातकाल सुखमणि साहब का पाठ किया गया उसके पश्चात कीर्तन आरती व अरदास की गई। इसके पश्चात लंगर का आयोजन किया गया इसमें पंजाबी समाज के अलावा जनप्रतिनिधि, समाजसेवी, गणमान्य नागरिक सहित सभी वर्गों के लोगों ने भी बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया व लंगर प्रसादी ग्रहण की।

पंजाबी समाज की सेवा देखते ही बनती थी महिलाएं बड़े प्रेम से जूठे बर्तन को साफ कर रही थी व सभी बच्चों में भी उत्साह देखते ही बनता था सेवा भाव के रूप में मनाया जाने वाला यह पर्व पूरे विश्व में मनाया जाता है।

यह जानकारी समाजसेवी विनीत अरोरा द्वारा दी गई है।