Ganjbasoda नारी की असली शक्ति समर्पण में है – MLA श्रीमति लीना जैन

वेदांत आश्रम में आयोजित एन एस एस शिविर का हुआ समापन

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @ गंजबासौदा मध्यप्रदेश रविकांत उपाध्याय/ 

सैण्ट एस आर एस पब्लिक हायर सैकण्डरी स्कूल द्वारा वेदांत आश्रम में आयोजित एनएसएस बालक/बालिका ईकाई के शिविर के समापन अवसर पर क्षेत्रीय विधायक श्रीमती लीना संजय जैन ने कहा कि महिला सशक्तिकरण विषय पर बात की जाए तो कहा जा सकता है कि नारी किसी भी हाल में कमजोर नहीं है। नारी के कई रूप हैं ,लेकिन उसकी शक्ति समर्पण में प्रकट होती है। नारी ने हर उस क्षेत्र में नाम स्थापित किया है, जो पुरूषों के स्वीकृत से थे। चाहे राजनीति का क्षेत्र हो या विज्ञान का, चाहे खेल हो या अंतरिक्ष का,हर क्षेत्र में नारी ने अपनी योग्यता का परचम लहराया है। उन्होंनें छात्राओं को सम्बोधित करते हुए कहा, कि आप एन एस एस के माध्यम से सीखे गए व्यवहारिक ज्ञान को समर्पण और आत्म विश्वास से जीवन में उतारकर प्रगति कर सकती हो।

इस अवसर पर अन्तर्राष्ट्रीय संत डाॅ रामकमल दास जी वेदांती ने कहा कि नारी के तीन रूप होते हैं, मां ,बेटी और पत्नी ।तीनों रूपों में नारी पुरूष की मार्गदर्शक के रूप में होती है। रामचरित्र मानस में तुलसी दास जी जहां राम के प्रकट होने पर दशरथ जी केपुण्यों का प्रकटीकरण मानते हैं,तो वहीं सीता माता के प्रकट होने पर जनक जी के पुण्यों को प्रकटीकरण मानते हैं। डाॅ वेदांती जी ने दूसरे विचार सत्र में बच्चों को शिक्षा देते हुए कहा कि गोविंद को केन्द्र में रखें, जीवन में कैसी भी विषम स्थिति बने, गोविंद को स्मरण करने से सारे कष्ट दूर हो जाते हैं। हमारे महापुरूषों के जीवन में विषम परिस्थिति से उनका व्यक्तित्व निखरकर आया है।

बौद्धिक सत्र के समापन बेला में उपस्थित शासकीय कन्या हायर सैकण्डरी स्कूल प्राचार्य एच सी शर्मा ने कविताओं और प्रसंगों के माध्यम से वातावरण को खुशनुमा बना दिया ।वहीं स्वयंसेवकों में उत्साह का संचार कर दिया। इस दौरान उन्होंने बताया कि आज उनकी सेवा का अंतिम दिन है, लेकिन वे हमेशा क्रियाशील रहने वाले हैं। उन्होंने छात्रों से कहा कि बुझ न जाए आग तुम्हारी है जिंदावाद तुम्हारी है, ज्वाला भी तुम्हारी है। अमावस को आग लगा देना, लेकिन देखना पूनम भी तुम्हारी है।

कार्यक्रम का आभार मानते हुए संस्था के डायरेक्टर के एस यादव ने अतिथियों से कहा कि वे हमेशा समाज के लिए अपने दायित्व को निभाते रहेंगे, गायत्री परिवार के संस्थापक आचार्य श्री राम शर्मा द्वारा दी शिक्षा के आधार पर व्यक्ति निर्माण से समाज निर्माण के कर्तव्य को निभा रहे हैं। शिविर के समापन पर उत्कृष्ट स्वयं सेवकों को अतिथियो ने प्रमाण पत्र एवं शील्ड प्रदान कर सम्मानित किया।

कार्यक्रम में भाजपा के वरिष्ठ नेता गोविंद पटेल, अधिवक्ता संघ के पूर्व सचिव मुकेश रघुवंशी, एनएसएस बालक इकाई प्रभारी कृष्ण पाल सिंह चौहान,बालिका ईकाई प्रमुख श्रीमती रत्ना देशपाण्डे, शिक्षक राजेश यादव, विशाल कुशवाह, विक्रांत सोनी, रामेश्वर शर्मा, राहुल जैन, दिनकर कद्रे, डाॅ विजय कुमार जैन, सुपार्श जैन, प्रीति माथुर, रामनारायण श्रीवास्तव, ममता कुशवाह, सुमन श्रीवास्तव, प्रियंका अग्रवाल उपस्थित रहें। शिविर के अंतिम रात्रि बेला में एनएसएस का कैम्प फायर का आयोजन किया गया, जिसमें स्वयंसेवकों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए।