Ganjbasoda समग्र समाज के लिये काम करने वाले महान हुतात्मा थे स्वामी श्रद्धानंद – अखिलेश

स्वामी श्रद्धानंद के बलिदान दिवस पर कार्यक्रम संपन्न

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @ गंजबासौदा रमाकांत उपाध्याय/ 


जात पात ऊँच नीच के भाव को मिटाकर समग्र समाज के लिये काम करने वाले महान हुतात्मा थे स्वामी श्रद्धानंदजी। यह बात विश्व हिंदू परिषद द्वारा आर्य समाज मंदिर में आयोजित धर्म रक्षा दिवस कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रांत सह प्रचार प्रसार प्रमुख अखिलेश श्रीवास्तव ने कही। उन्होंने कहा कि स्वामी जी ने लोभ लालच अथवा भय के कारण अपना धर्म परिवर्तन कर चुके हिंदुओं को स्वधर्म में वापस लाने हेतु शुद्धि आंदोलन की शुरुआत की और हजारों हिंदुओं की पुनः स्वधर्म में घर वापसी कराई थी। 

कार्यक्रम में विहिप प्रांत सामाजिक समरसता प्रमुख सुनील यादव ने कहा कि महापुरुषों को सच्ची श्रद्धांजलि तभी होती है जब हम उनके दिखाये हुये मार्ग पर चलें। 


प्रांत सह गौरक्षा प्रमुख नीलेश अग्रवाल ने कहा कि आज भी इस देश में मिशनरियों और जिहादियों द्वारा धर्म परिपरिवर्तन का कुचक्र चलाया जा रहा है हमें स्वामीजी की राह पर चलते हुये हर स्थिति में धर्मांतरण को रोकना होगा। आर्य समाज बासौदा के संचालक सूर्य प्रकाश आर्य नेस्वामी श्रद्धानंद के जीवन वृत्त पर प्रकाश डाला।

इस अवसर पर विहिप जिलाध्यक्ष संदीप नेमा, आर्य समाज जिलाध्यक्ष जगन्नाथ सिंह, विभाग सत्संग प्रमुख सुरेंद्र ठाकुर, आर्य समाज अध्यक्ष ओमप्रकाश श्रीवास्तव, जिला धर्मयात्रा महासंघ प्रमुख दिलीप देसाई,जिला प्रचार प्रसार प्रमुख सत्यम दुबे बावली, विहिप नगर अध्यक्ष रामकृष्ण राजपूत, नगर उपाध्यक्ष प्रकाश वाधवानी, नगर मंत्री संजय सिलावट, नगर संयोजक भजन प्रजापति, मनीष अग्रवाल, राजू मालवीय,नरेश राजपूत,रामराज झा, रानू मालवीय, रमन दुबे, मोनू प्रजापति,धर्मेंद्र शर्मा,सुमित दांगी,अंकित सोलंकी,कपिल मैथिल,धनराज कुशवाह, योगेंद्र तिवारी,अविरल शर्मा, दिनेश अहिरवार उपस्थित थे।
कार्यक्रम का संचालन जिला मंत्री अभिषेक शर्मा गुरुजी ने किया।