Vidisha निष्पक्ष, निर्भीक होकर निर्वाचन संपन्न कराएं – अपर कलेक्टर वृन्दावन सिंह

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @ विदिशा मध्यप्रदेश रमाकांत उपाध्याय / 9893909059

त्रिस्तरीय पंचायत के आम निर्वाचन को जिले में सुव्यवस्थित रुप से संपन्न कराए जाने हेतु हर स्तर पर प्रबंध सुनिश्चित किया जा रहे हैं। मतदान प्रक्रिया को संपन्न कराने वाले पीठासीन अधिकारी और दल के अन्य सदस्यों को विगत 2 वर्षों से लगातार प्रशिक्षित किया जा रहा है। एसएटीआई के 6 कक्षाओं में एक साथ आयोजित प्रशिक्षण में करीबन 910 पीठासीन अधिकारी और मतदान दल अधिकारी क्रमांक एक प्रशिक्षित हुए हैं।

अपर कलेक्टर वृंदावन सिंह ने शनिवार को प्रशिक्षणार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि संपूर्ण निर्वाचन प्रक्रिया को निष्पक्ष और निर्भीक होकर संपन्न कराना ही हमारा नैतिक दायित्व है। निर्वाचन के दौरान स्वयं तटस्थ रहें और ऐसी ही कार्यप्रणाली आपके कार्यों में प्रदर्शित होना चाहिए।

अपर कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि त्रिस्तरीय पंचायतों का संपूर्ण निर्वाचन मत पत्रों के माध्यम से होना है अतः इसमें बरती जाने वाली सावधानियों पर विशेष ध्यान रखें। उन्होंने कहा कि राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा हर बिंदुओं पर दिशा निर्देश प्रसारित किए गए हैं। अब हमारी बारी है कि हम उसका अध्ययन कर मतदान दिवस और मतगणना पर अमल करें। उन्होंने कहा कि मतपेटी को सुव्यवस्थित रूप से संचालन करने की जानकारी अवश्य हासिल करें। श्री सिंह ने पीठासीन अधिकारियों को प्रदाय पुस्तिका का बखूबी अध्ययन करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि जिज्ञासाओं का समाधान हर स्तर पर प्राप्त किया जा सकता है। अतः किसी भी निर्वाचन संबंधी शंका को अपने मन के अंदर कदापि ना बनाए रखें। इस दौरान अपर कलेक्टर के द्वारा विभिन्न स्तरों पर निर्वाचन के कार्यों को संपन्न संपादित कराने हेतु निर्धारित दिशा-निर्देशों पर प्रकाश डाला है। उन्होंने मतदान सामग्री प्राप्ति से पहले सभी दल अपने अन्य सदस्यों से भलीभांति अवगत हो जाएं। एक दूसरे से परिचय होने के उपरांत सामग्री प्राप्ति के पश्चात उसका मैदान चेक लिस्ट के अनुसार करें। संपूर्ण कार्रवाई वितरण सामग्री स्थल पर ही सुनिश्चित की जाए। इसके पश्चात मतदान केंद्र की ओर रवाना हों मतदान केंद्र पर पहुंचकर एक दिन खुद की जाने वाले प्रबंधों पर भी उन्होंने विस्तारपूर्वक प्रकाश डाला है। साथ ही मतदान दिवस की प्रातः मॉकपोल के अलावा पोलिंग एजेंट को बैठने के क्रम तथा मतदान दलों के अधिकारियों को क्रमानुसार बैठने की जानकारी चित्रात्मक रूप से दी गई। ताकि मतपत्र जारी करना, मतदाता द्वारा मतपेटी में डालने तक की सम्पूर्ण प्रक्रिया पर सीधी नजर रखी जा सकेगी की जानकारी प्रशिक्षणार्थियों को एसडीएम गोपालसिंह वर्मा के अलावा प्रत्येक कक्ष में के लिए नियुक्त दो-दो मास्टर ट्रेनर्सों के द्वारा निर्वाचन संबंधी तमाम बिन्दुओं की विस्तृत जानकारी ही नहीं दी गई बल्कि प्रशिक्षण के दौरान प्रश्नोत्तरों के माध्यम से अनेक शंकाओं का समाधान मौके पर ही किया गया है।