Ganjbasoda सिद्ध हनुमत इम्लाधाम पर श्रीराम कथा महोत्सव में हुआ श्रीराम-सीता विवाह

श्रीराम कथा महोत्सव में चतुर्थ दिन श्रीराम सीता जी का हुआ विवाह, भगवान श्रीराम के गुण अपनाने की अपील

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @ गंजबासौदा मध्यप्रदेश रमाकांत उपाध्याय / 9893909059

समीपस्थ सिद्ध हनुमत धाम इमलाधाम पर नौ दिवसीय सरस् संगीतमय श्रीराम कथा महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। यह आयोजन सिद्धबाबा व हनुमान महाराज के संरक्षण व इमलाधाम आश्रम के महंत हरिहरदास जी मौनी बाबा के सानिध्य में उर्णिया बाबाजी व ग्रामवासियों के द्वारा आयोजित हो रहा है। 

10 अप्रैल तक दोपहर 2 बजे से शाम 5 बजे तक राजस्थान से पधारे कथा व्यास सीतारामदास त्यागी जी के श्रीमुख से रामकथा के अमृत रस की बारिश हो रही है। कथा सुनने के लिए सेकड़ो महिलाएं-पुरुष व बच्चे पहुँच रहे हैं।

श्रीराम-सीता का हुआ विवाह, सजाई झाँकी

इमला धाम के पुजारी पंडित राहुल चौवे वसरिया ने बताया कि कथा के चतुर्थ दिवस में भगवान राम व माता सीता जी का शुभ विवाह सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर विवाह के मंचन के साथ ही आकर्षक प्रस्तुति से श्रोता मंत्रमुग्ध हो गए।

भगवान की आकर्षक झांकी सजाई गई थी। भगवान राम के गुणों को जीवन मे अपनाने की प्रेरणा कथा के माध्यम से दी गई।


कथा के चतुर्थ दिवस के मुख्य यजमान समाजसेवी रघुनाथ सिंह जी रघुवंशी “करौंदा वाले” थे। उनके द्वारा संत समाज का सम्मान किया गया। आयोजक समिति ने सभी धर्मप्रेमी बंधुओ से धर्म लाभ लेने की अपील की है।

ज्ञात हो कि इमलाधाम पर प्रति मंगलवार दोपहर 12 बजे महाआरती होती है, जिसमे बड़ी संख्या में श्रद्धालु शामिल होकर अपने संकटों से मुक्ति पाते हैं।