Gwalior प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रदेश को दीं 19 हजार करोड़ की सौगात

GWALIOR madhya Pradesh RAMAKANT UPADHYAY 9893909059

मध्यप्रदेश को देश के प्रथम तीन शीर्ष राज्यों में लायेंगे : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने दिया है गरीब कल्याण पर विशेष ध्यान: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि स्वच्छता में मध्यप्रदेश नंबर एक है। मध्यप्रदेश को विकास के क्षेत्र में भी टॉप पर लाने की गारंटी से अवगत कराते हुए यह बताना जरूरी है कि मध्यप्रदेश इस समय देश के 10 टॉप राज्यों में शामिल है। इसे प्रथम तीन शीर्ष राज्यों में लाएंगे।

प्रधानमंत्री श्री मोदी आज ग्वालियर के मेला ग्राउण्ड में जन सभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने मध्यप्रदेश को 19 हजार करोड़ लागत के अनेक विकास कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन किया।

श्री मोदी ने कहा कि आधुनिक अधोसंरचना और अच्छी कानून व्यवस्था से प्रत्येक क्षेत्र में विकास आसान हो जाता है। किसान हों या कारोबारी या फिर साधारण नागरिक सभी फलते-फूलते हैं। एक समय था जब मध्यप्रदेश विशेषकर ग्वालियर-चंबल अंचल क्राइम और करप्शन का शिकार था। लेकिन अब यहां जीवन सुगम हो रहा है। समृद्धि का मार्ग आसान हुआ है। सामाजिक क्षेत्र में भी अन्याय और अत्याचार के स्थान पर विकास की ललक देखने को मिल रही है। सरकार ने सामाजिक न्याय के साथ लोगों की समस्याओं को हल करने और उनकी सुनवाई के माध्यम मजबूत बनाए हैं। आज के युवाओं ने दुरावस्था का वह समय नहीं देखा, प्रगतिशील मध्यप्रदेश ही देखा है। ग्वालियर अंचल में अनेक कार्यों के साथ ही प्रदेश के विभिन्न स्थानों को 19 हजार करोड़ की सौगातें मिली हैं।

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि देश को अनेक क्रांतिवीर देने वाले ग्वालियर अंचल की धरती एक प्रेरणा स्थल है। यहां राष्ट्र रक्षा के लिए देशभक्तों ने अपने को खपा दिया। इस धरती से करीब सवा दो लाख हितग्राहियों को दीवाली और धनतेरस के पहले ही गृह प्रवेश का सौभाग्य मिला है। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि युवाओं के लिए रोजगार के अनेक अवसर खुलेंगे। भारत विश्व में एक ताकत बन रहा है। शीघ्र ही भारत विश्व की तीन प्रथम अर्थव्यवस्थाओं में शामिल होगा।

सपनों के अनुरूप मिल रहा मकान

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि केन्द्र सरकार ने प्रत्येक क्षेत्र में लोगों का कल्याण सुनिश्चित किया है। करीब चार करोड़ लोगों को अपना घर मिला है। मध्यप्रदेश में भी लाखों लोगों को अपने मकान का सपना पूरा करने का अवसर मिला है। आवास निर्माण में महत्वपूर्ण बात यह है कि हितग्राही को अपने सपनों के अनुरूप मकान बनाने का अवसर मिला है। जैसे-जैसे मकान के निर्माण का र्का पूर्ण होता जाता है, हितग्राही के खाते में राशि डालने का कार्य भी होता है। इन मकानों के साथ टॉयलेट सुविधा, बिजली और उज्जवला गैस कनेक्शन एवं नल से जल का लाभ भी दिया जा रहा है। प्रधानमंत्री आवास योजना में घरों की रजिस्ट्री ज्यादातर महिलाओं के नाम हो रही है। उम्मीद की जाना चाहिए कि इन घरों में आने के बाद सभी परिवार बच्चों को पढ़ाएंगे और उन्हें कौशल सिखाएंगे।

नारी सशक्तिकरण

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि नारी सशक्तिकरण का कार्य राष्ट्र निर्माण के रूप में एक समर्पित मिशन है। पूर्व में बहनों के लिए एक तिहाई आरक्षण की बात की गई, लेकिन इस बारे में कानून के निर्माण को रोक दिया गया। आज नारी शक्ति वंदन अधिनियम एक सच्चाई है। विकास की गाथा में मातृ शक्ति की भागीदारी बढ़े, इस दिशा में आगे जाना है।

किसी ने नहीं पूछा, उन्हें हम पूछते और पूजते हैं

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि जिनको किसी ने नहीं पूछा, उस वर्ग को हम पूछते हैं और पूजते भी हैं। कुछ साल पहले तक दिव्यांगों को बेसहारा छोड़ दिया गया था। दिव्यांग कल्याण के क्षेत्र में सरकार ने महत्वपूर्ण कार्य किया है। सांकेतिक भाषा के माध्यम से दिव्यांग सुविधाएं प्राप्त करेंगे। अटल बिहारी वाजपेयी दिव्यांग स्पोर्ट्स ट्रेनिंग सेंटर ग्वालियर में प्रारंभ होगा, जो ग्वालियर का नाम रोशन करेगा। यही नहीं आज ग्वालियर से सुमावली ब्राड गेज के कार्य का लोकार्पण, मेडिकल कॉलेज ग्वालियर में 50 बिस्तर के क्रिटीकल हेल्थ केयर हेल्थ ब्लॉक शिलान्यास भी महत्वपूर्ण है।

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि आज ग्वालियर अंचल के साथ ही प्रदेशभर के कई स्थानों में नई योजनाओं का शिलान्यास और पूर्ण कार्यों का लोकार्पण हो रहा है। जहां उज्जैन में विक्रमपुरी औद्योगिक टॉउनशिप का लोकार्पण हुआ है, वहीं इंदौर के मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक पार्क का शिलान्यास भी हुआ है। दिल्ली-वड़ोदरा एक्सप्रेस-वे के अंतर्गत 244 किलोमीटर लंबाई के मार्ग का लोकार्पण, इंडियन ऑयल कार्पोरेशन के मालनपुर बॉटलिंग प्लांट का लोकार्पण और इंडियन ऑयल कार्पोरेशन के रतलाम टर्मिनल पर अतिरिक्त सेवाओं का लोकार्पण महत्वपूर्ण है। सड़क परियोजनाओं में राघवगढ़-इंदौर-हरदा, बांकानेर घाट निर्माण, जीरापुर-पचोर, आष्टा बायपास और खिलचीपुर बायपास के कार्यों के लिए भूमिपूजन भी हुआ है। इसके साथ ही आई.आई.टी इंदौर के अकादमिक भवन के लोकार्पण के साथ हॉस्टल भवन एवं लैब कॉम्प्लेआक्स के शिलान्यास से विद्यार्थी लाभान्वित होंगे। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने ग्वालियर और श्योपुर जिलों की जल जीवन मिशन परियोजनाओं के भूमिपूजन को इस अंचल के लिए महत्वपूर्ण सौगात बताया।

स्वास्थ्य क्षेत्र में नए कार्य

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि प्रदेश के विदिशा मेडिकल कॉलेज सहित बैतूल, कटनी, बुरहानपुर, नरसिंहपुर, दमोह, आगर-मालवा और शाजापुर में 50 बिस्तर क्षमता के क्रिटिकल केयर हेल्थ ब्लॉक बनाने के लिए भूमिपूजन हुआ है। स्वास्थ्य क्षेत्र में नागरिकों को ज्यादा सुविधा मिलेगी।

 

प्रधानमंत्री श्री मोदी जनता के हृदय सम्राट हैं – मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी जनता के हृदय सम्राट हैं और दुनिया के सर्वाधिक लोकप्रिय नेता हैं। श्रीमान मोदी जी का मध्यप्रदेश की धरती पर अभिनंदन हैं। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने कहा था कि स्वच्छता में ईश्वर का वास होता है। आज मोदी जी गांधी जी के सपनों को साकार कर रहे हैं। इसके साथ ही आज शास्त्री जयंती भी है और शास्त्री जी ने देश में अन्न की कमी के दौर में सप्ताह में एक दिन व्रत का आव्हान नागरिकों से किया था। आज देश के अन्न भंडार भरे हैं। मध्यप्रदेश 22 लाख टन गेहूँ के निर्यात करने वाला प्रदेश है। प्रधानमंत्री श्री मोदी के नेतृत्व में एक सम्पन्न शक्तिशाली, वैभवशाली और गौरवशाली भारत का निर्माण हो रहा है। चारों तरफ विकास की गंगा बह रही है। कोविड के समय भारत में 200 करोड़ डोज वैक्सीन लगाकर चमत्कार किया। जल जीवन मिशन सहित कई योजनाएं लोगों के लिए लागू हैं।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा‍कि सड़क, बिजली, पेयजल, सिंचाई के क्षेत्र में 20 वर्ष में महत्वपूर्ण प्रगति हुई है। प्रदेश के विकास को नई दिशा देने वाली 44 हजार करोड़ रूपए लागत की केन-बेतवा परियोजना मंजूर हुई है। प्रधानमंत्री जी ने गरीब कल्याण पर विशेष ध्यान दिया है। मध्यप्रदेश में आवास योजना में 35 लाख से अधिक मकान निर्मित किए गए हैं। प्रदेश में जरूरतमंदों को जमीन का पट्टा देकर मालिक बनाया जा रहा है। मध्यप्रदेश में लाड़ली बहनों को घर से दूर पानी भरने नहीं जाना पड़े इसके लिए 65 लाख परिवारों तक नल से जल की सुविधा प्रदान की गई है। अगले डेढ़ साल में सभी घरों में यह सुविधा हो जाएगी। मध्यप्रदेश विकास के पथ पर तेजी से बढ़ रहा है। मध्यप्रदेश अब बीमारू और पिछड़ा नहीं है।

ग्वालियर से सुमावली के लिए मेमू ट्रेन को दिखाई हरी झण्डी

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने ऐतिहासिक नगरी ग्वालियर के मेला मैदान में आयोजित हुए कार्यक्रम से हरी झण्डी दिखाकर ग्वालियर से सुमावली के लिये मेमू ट्रेन का शुभारंभ किया। प्रधानमंत्री श्री मोदी द्वारा हरी झण्डी दिखाते ही ग्वालियर रेलवे स्टेशन से सुमावली के लिये ट्रेन रवाना हुई। लगभग 48 किलोमीटर लम्बे इस नए रेलमार्ग का निर्माण 411 करोड़ रूपए की लागत से किया गया है। यह रेलमार्ग ग्वालियर से श्योपुर तक निर्माणाधीन ब्रॉडगेज रेलवे लाइन का एक हिस्सा है।

प्रधानमंत्री श्री मोदी को मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भेंट की तानसेन की लघु प्रतिमा और चितेरावली पेंटिंग

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का गालव ऋषि की तपोभूमि ग्वालियर की पवित्र धरा पर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आत्मीय स्वागत किया। उन्होंने प्रधानमंत्री श्री मोदी को संगीत सम्राट तानसेन की मूर्ति और ग्वालियर की सुप्रसिद्ध मराठा शैली की चितेरावली चित्रकला की सतरंगी पेंटिंग सौंपी। तानसेन की मूर्ति का निर्माण ग्वालियर के सुप्रसिद्ध मूर्तिकार श्री दीपक वर्मा ने किया है। चितेरावली चित्रकला प्रमुखत: शुभ अवसरों पर लोगों द्वारा अपने घरों में उकेरी जाती है। इस कला का शुभारंभ सन् 1657 से माना जाता है और यह कला ग्वालियर के मोतीमहल में आज भी चित्रित है, जिसे सन् 1757 ईसवी में चित्रित किया गया था।

 

खुले वाहन में सवार होकर जन समूह के बीच जन दर्शन करने पहुँचे प्रधानमंत्री

 

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान एवं खजुराहो सांसद श्री वी.डी. शर्मा के साथ खुले वाहन पर सवार होकर संगीत एवं कला की ऐतिहासिक नगरी ग्वालियर के मेला मैदान में प्रवेश किया। प्रधानमंत्री श्री मोदी द्वारा किए गए जन दर्शन के दौरान कार्यक्रम में भारी संख्या में मौजूद जनसमूह ने करतल ध्वनि और नारे लगाकर उनका आत्मीय स्वागत किया। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में मौजूद महिलाओं सहित सम्पूर्ण जन समूह ने प्रधानमंत्री श्री मोदी के सम्मान में लिखी हुईं तख्तियाँ लहराकर प्रधानमंत्री श्री मोदी के प्रति अपना आभार जताया।

 

कार्यक्रम में केन्द्रीय मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर, श्री वीरेन्द्र कुमार व श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, राज्य सरकार के मंत्रिगण सर्वश्री नरोत्तम मिश्र, गोपाल भार्गव, तुलसीराम सिलावट, श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया, राजेन्द्र शुक्ला, प्रभुराम चौधरी, महेन्द्र सिंह सिसोदिया, प्रद्युम्न सिंह तोमर, अरविंद भदौरिया, राजवर्धन सिंह दत्तीगांव, भारत सिंह कुशवाह, सांसदगण श्री विवेक नारायण शेजवलकर, श्रीमती संध्या राय और श्री के.पी. सिंह यादव उपस्थित थे।