एमपी में शिवराजसिंह का जादू बरकरार, बीजेपी कार्यालय में हर्षोल्लास

खंडवा लोकसभा सहित कांग्रेस की परंपरागत  विधानसभा सीट जोबट और पृथ्वीपुर पर भाजपा का परचम, काँग्रेस ने भाजपा से रैगाव सीट छीनी

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @ भोपाल रविकांत उपाध्याय/ 

प्रदेश में हुए उपचुनाव में एक लोकसभा और तीन विधानसभा सीटों में प्रदेश के लोकप्रिय मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का जादू बरकरार रहा। भाजपा ने खंडवा लोकसभा सीट सहित पृथ्वीपुर और जोबट (अनुसूचित जनजाति) पर जीत हासिल कर ली है, ज्ञात हो कि जोबट और पृथ्वीपुर कांग्रेस की परंपरागत सीटें रही हैं। जबकि भाजपा को सतना जिले की रैगांव (अनुसूचित जाति) सीट पर नुकसान उठाना पड़ा। यहां भाजपा को पटखनी देते हुए कांग्रेस जीत गई है। भाजपा प्रदेश कार्यालय में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान,  भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, सह संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा, कैबिनेट मंत्री विश्वास सारंग, प्रदेश मीडिया प्रभारी हितेंद्र भारद्वाज, सुश्री प्रीति बग्गा सहित भाजपा नेताओं ने खुशियां मनाई और हर्षोल्लास के साथ खुशी का इजहार किया।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस जीत को चमत्कारी बताते हुए प्रदेश सरकार की जनकल्याणकारी नीतियों पर जनता का विश्वास बताया है उन्होंने इस जीत को प्रधानमंत्री जी को सौपने की बात दोहराई है जबकि पूर्व मुख्यमंत्री काँग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने परिणाम स्वीकार करते हुए जनादेश स्वीकार करने की बात कही है। ज्ञात हो कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उपचुनाव में लगभग एक महीने तक जमकर चुनाव प्रचार किया। इस दौरान उन्होंने पांच स्थानों पर रात्रि विश्राम किया और 39 सभाएं ली थीं। कई जगह मुख्यमंत्री ने रोड शो भी किए थे। खंडवा लोकसभा सीट भाजपा सांसद नंदकुमार सिंह चौहान के निधन से रिक्त हुई थी। इसी तरह रैगांव सीट भाजपा विधायक जुगलकिशोर बागरी, पृथ्वीपुर सीट कांग्रेस विधायक बृजेंद्र प्रताप सिंह और जोबट विधानसभा सीट कांग्रेस विधायक कलावती भूरिया के निधन से रिक्त हुई थी। चारों सीटों पर उपचुनाव के परिणाम मंगलवार को घोषित हुए। भाजपा की धनतेरस को ही दीवाली मन गई।

 

आदिवासियों का भाजपा में विश्वास

विधानसभा चुनाव 2018 में आदिवासी वोट बैंक में कांग्रेस की सेंध के कारण ही भाजपा को सत्ता से हाथ धोना पड़ा था, लेकिन मौजूदा उपचुनाव में आदिवासी सीट जोबट तो भाजपा ने जीती ही, साथ में खंडवा संसदीय सीट के तहत आने वाले चार आदिवासी विधानसभा क्षेत्रों में उसका यह वोट बैंक वापस आ गया।

इनकी हुई जीत 

खंडवा से ज्ञानेश्वर पाटिल

खंडवा लोकसभा स्व भाजपा प्रत्याशी ज्ञानेश्वर पाटील ने 82,140 वोटों से जीत दर्ज कराई। पाटील को 6,32,455 वोट मिले, जबकि कांग्रेस प्रत्याशी राजनारायण सिंह को 5,50,315 वोट मिले।

रैगांव(सतना) से कल्पना वर्मा

रैगांव (सतना) विधानसभा सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी कल्पना वर्मा 12,290 मतों से विजयी हुईं। कल्पना वर्मा को 72,989 और भाजपा प्रत्याशी प्रतिमा बागरी को 60,669 मत मिले।

जोबट से सुलोचना रावत

अलीराजपुर जिले की अनुसूचित जनजाति आरक्षित जोबट सीट पर भाजपा प्रत्याशी सुलोचना रावत ने कांग्रेस के महेश पटेल को 6104 मतों से पराजित किया। सुलोचना रावत को 68,949 वोट मिले जबकि महेश पटेल को 62,845 वोट मिल पाए।

पृथ्वीपुर से डॉ शिशुपाल यादव

निवाड़ी जिले की पृथ्वीपुर विधानसभा सीट पर भाजपा 15,687 वोटों से विजयी रही। भाजपा प्रत्याशी डा. शिशुपाल यादव को 82673 और कांग्रेस प्रत्याशी नितेंद्र सिंह राठौर को 66986 मत मिल सके।