Bhopal मुख्यमंत्री ने दी श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की शुभकामनाएँ, मुख्यमंत्री निवास में देर रात तक गूँजे कृष्ण भक्ति और आराधना के स्वर

भगवान श्री कृष्ण की नीति के अनुसार दुष्टों पर वज्र सी कठोर है राज्य सरकार : मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @ भोपाल मध्यप्रदेश रमाकांत उपाध्याय / 9893909059

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का दिन आनंद, उल्लास और उत्साह का दिन है। भगवान श्रीकृष्ण ने यही संदेश दिया कि सज्जनों के लिए फूल से कोमल और दुष्टों पर वज्र से कठोर होना चाहिए। भगवान श्रीकृष्ण की नीति अनुसार जो भी प्रदेश की शांति व्यवस्था और सौहार्द्र से खिलवाड़ करेगा, उसके लिए राज्य सरकार वज्र से कठोर होगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर अहीरपुरा बरखेड़ी स्थित श्रीराधा कृष्ण मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद उपस्थित श्रद्धालुओं को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बाल गोपाल की पालकी यात्रा का शुभारंभ किया। “नन्द के घर आनंद भयो, जय कन्हैया लाल की” के घोष के साथ श्रद्धालुओं को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की बधाई और शुभकामनाएँ दी। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग, महापौर श्रीमती मालती राय, विधायक रामेश्वर शर्मा, सामाजिक कार्यकर्ता राहुल कोठारी सहित नागरिक उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा है कि भगवान श्रीकृष्ण द्वारा प्रेम और भक्ति के साथ कर्म का संदेश दिया गया है। फल की चिंता किये बगैर सदैव अच्छे कार्य करने चाहिए। उन्होंने भगवान श्रीकृष्ण से प्रदेशवासियों की सुख समृद्धि और अच्छे स्वास्थ्य की कामना की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण का आशीर्वाद और कृपा सदैव हमारे देश पर बनी रहे और भारतवर्ष प्रधानमंत्री श्री मोदी के नेतृत्व में विश्व गुरू के रूप में स्थापित हो। 

 

मुख्यमंत्री निवास में देर रात तक गूँजे कृष्ण भक्ति और आराधना के स्वर

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कहा है कि आज श्रीकृष्ण जन्मोत्सव पर हम सब कन्हैया की भक्ति में लीन होकर आनंदित हों और अन्य सभी के आनंद की भी प्रार्थना करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोविड के कारण अनेक पर्व और त्यौहर के कार्यक्रम दो वर्ष नहीं हो सके। अब इस साल जन्माष्टमी पर्व हमें सब भूल कर आनंद होने का संदेश दे रहा है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वैभवशाली भारत के निर्माण के लिए हम सब मिल कर कार्य करें। उन्होंने प्रदेशवासियों को श्रीकृष्ण जन्मोत्सव की बधाई दी।

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री निवास परिसर में उत्तरप्रदेश के धामपुर से आमंत्रित श्री पुष्पेंद्र चौहान और सुश्री अमृता चौहान सहित अन्य कलाकारों ने भक्ति गीत, भजन और नृत्य मधुर संगीत के साथ प्रस्तुत किए। इस अवसर पर गायक और नर्तक कलाकार दल ने भगवान कृष्ण की स्तुति में अनेक भजन प्रस्तुत किए।

वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा, लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी, चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग,भोपाल की महापौर श्रीमती मालती राय, विधायक श्रीमती कृष्णा गौर, विधायक, निगम मंडल के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष, विभिन्न संगठनों के पदाधिकारी, नागरिक और मीडिया प्रतिनिधि कार्यक्रम में उपस्थित होकर देर रात तक भजन सुने।

भगवान कृष्ण के लिए गाया गया लोकप्रिय भजन बड़ी देर भई नंदलाला.. नंद के आनंद भयो जय कन्हैया लाल की,हाथी घोड़ा पालकी जय कन्हैया लाल की…और अन्य भजन मुख्यमंत्री निवास में गूँजते रहे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह चौहान और परिजन के साथ मुख्यमंत्री निवास में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर्व पर पूजा-अर्चना की और सर्व-कल्याण की प्रार्थना की।