सीएम योगी ने मथुरा-वृंदावन श्रीकृष्ण जन्मस्थल के 10 वर्ग किलोमीटर के दायरे को तीर्थ स्थल किया घोषित

सीएम आफिस ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. तीर्थ स्थल क्षेत्रों में मांस और शराब की बिक्री पर बैन रहेगा।

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल@लखनऊ उत्तरप्रदेश रमाकांत उपाध्याय/

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को बड़ा फैसला लेते हुए मथुरा वृंदावन के श्रीकृष्ण जन्मस्थल को केंद्र में रखकर10 वर्ग किलोमीटर के दायरे को तीर्थ स्थल घोषित किया है।

धर्मार्थ कार्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश में अभी सात स्थलों को तीर्थ स्थल क्षेत्र का दर्जा दिया गया है। ये सभी के सभी मथुरा के ही हैं। 2017 में भाजपा की सरकार बनने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने साल 2018 में वृन्दावन, नंदगांव, बरसाना, गोवर्द्धन, गोकुल, बलदेव और राधाकुण्ड को तीर्थ स्थल क्षेत्र घोषित करने के आदेश दिये थे। वैसे तो प्रदेश में धार्मिक नगरियां बहुत हैं लेकिन, सरकार द्वारा औपचारिक तौर पर घोषित तीर्थ स्थल क्षेत्र मथुरा के यही सात हैं।

ज्ञात हो कि इस क्षेत्र में 22 नगर निगम वार्ड क्षेत्र आते हैं, जिसे तीर्थ स्थल घोषित किया गया है। इससे पहले यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने मथुरा में ही जन्माष्टमी भी मनाई थी, जिसके बाद तीर्थस्थल घोषित किए जाने का यह फैसला काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा था। सीएम आफिस ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। तीर्थ स्थल क्षेत्रों में मांस और शराब की बिक्री पर बैन रहेगा।