Ganjbasoda पुरानी कृषि मंडी को बनाए खेल स्टेडियम

शहर के खेल प्रेमी हुए एकजुट, पुरानी कृषि उपज मंडी को खेल स्टेडियम के रूप में विकसित करने सौपा ज्ञापन

स्वास्तिक न्यूज़ पोर्टल @ गंजबासौदा रमाकांत उपाध्याय/ 9893909059 

पुरानी कृषि उपज मंडी प्रांगण को खेल स्टेडियम के रूप में विकसित करने की मांग को लेकर नगर के खेल प्रेमी, खेल संघ, समाजसेवी व गणमान्य नागरिकों ने बासौदा विकास संघर्ष समिति के तत्वाधान में अनुविभागीय अधिकारी को एक ज्ञापन मुख्यमंत्री के नाम सौंपा है। 

ज्ञापन कहा गया है कि नगर में खेल मैदानों के अभाव के चलते सर्व सुविधा युक्त सार्वजनिक खेल मैदान की मांग नगर के खेल प्रेमी विगत दो दशकों से शासन प्रशासन से करते आ रहे हैं जिस पर शासन प्रशासन ने अभी तक कोई रूचि नहीं दिखाई, तो वही वर्तमान में पुराने कृषि उपज मंडी का स्थानांतरण कंजना पठार पर हो जाने से खाली पड़ी हुई है। इसका उपयोग खेल स्टेडियम के रूप किया जाए तो खिलाड़ियों को सुविधाएं मिल जाएगी।

 

धरना-प्रदर्शन को होंगे मजबूर 
खेलप्रेमी जागरूक नागरिक नीतीश श्रीवास्तव का कहना है कि बासौदा नगर की जनसंख्या लगभग एक लाख से अधिक होने के बावजूद भी नगर में खेल स्टेडियम का ना होना खेल प्रतिभाओं, खेल प्रेमियों और पुलिस विभाग व भारतीय सेना की तैयारी कर रहे प्रतिभागियों के लिए निराशाजनक है तो वही खेल स्टेडियम के अभाव में नगर में खेल गतिविधियां भी लगभग बंद – सी ही है। इसके चलते नगर की खेल प्रतिभाओं को पर्याप्त अवसर नहीं मिल पाने से वे भी हताश है, ऐसे में पुरानी कृषि उपज मंडी प्रांगण को खेल स्टेडियम के रूप में विकसित किए जाने एक अच्छा विकल्प शासन प्रशासन के पास है।

बासौदा विकास संघर्ष समिति के उपाध्यक्ष मुकेश राजपूत का कहना है कि हम सबकी इस प्रमुख मांग पर शासन प्रशासन को शीघ्र अमल करना चाहिए। 

ज्ञापन में इस मांग पर शीघ्र विचार नहीं किए जाने पर शासन प्रशासन को खेल प्रेमियों ने चेतावनी दी है कि हम भविष्य में आंदोलन, रैली व धरना प्रदर्शन करने पर मजबूर होंगे।